कोविड पीड़ितों और परिजनों को खाना पहुंचा रही है श्री महाकाल रसोई


उत्तर पूर्वी दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है। कई इलाकों में लोग क्वारंटीन हैं तो कई मरीज अस्पताल में भर्ती हैं। ऐसे में कई सामाजिक संगठन लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। इसी बीच बाबरपुर की श्री महाकाल रसोई कोविड मरीजों और उससे प्रभावित परिवारों के लिए पका हुआ खाना पहुंचाने में लगी हुई है। संगठन ने आपसी सद्भाव का परिचय देते हुए हिंदू-मुस्लिम दोनों को इस काम में शामिल किया है। रसोई संचालक अशोक शर्मा बंटी ने बताया कि मौजूदा समय में वह अपनी टीम के साथ मिलकर दर्जनों परिवारों को खाना पहुंचाने का काम कर रहे हैं। अशोक शर्मा ने बताया कि उनकी रसोई ने पिछले साल भी जरूरतमंद और गरीब लोगों को खाना खिलाया था। 
उन्होंने कहा कि इस बार प्रवासी मजदूर लॉकडाउन के डर से पहले ही अपने पैतृक स्थानों को चले गए हैं। ऊपर से महामारी अपना रौद्र रूप धारण किए हुए है। लोग बीमारी की चपेट में आ रहे हैं और एक बार जो भी इसकी चपेट में आया, समझो उसका पूरा परिवार प्रभावित हो जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए श्री महाकाल रसोई ने इस बार कोरोना पीड़ितों को पका हुए खाना पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। अशोक शर्मा ने बताया कि श्री महाकाल रसोई के इस अभियान से उनके मुस्लिम समाज के बहुत से साथी जुड़े हुए हैं, जो तन-मन-धन से साथ में खड़े रहकर सहयोग देते हैं। रसोई शुरू होते ही वेलकम इलाके से पहुंचे साथियों ने उन्हें भोजन बनाने के लिए रिफाइंड के साथ दूसरा कच्चा सामान भी मुहैया कराया है।