बेचने के लिए नौ साल की बच्ची अगवा, दो गिरफ्तार


नई दिल्ली। ख्याला इलाके से यूपी में फतेहपुर के गांव रायपुर मौरी निवासी फूल कुमारी ने अपने साथी पुकार के साथ नौ साल की बच्ची को बेचने के इरादे से अगवा कर लिया। वह बच्ची के लिए ग्राहक तलाश ही रही थी कि पुलिस को वारदात की सीसीटीवी फुटेज मिल गई। इसके बाद फतेहपुर के उसके गांव में दबिश देकर बच्ची को सकुशल मुक्त करा लिया गया।
जिला पुलिस उपायुक्त उर्विजा गोयल ने बताया कि विष्णु गार्डन निवासी श्वेता देवी ने 17 अप्रैल को ख्याला थाने में अपनी 9 साल की बेटी के अगवा होनेे की शिकायत दी। थाना प्रभारी गुरसेवक सिंह ने नेतृत्व में आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई। इसमें पड़ोस के घर में किराए पर रहने वाले पुकार और फूल कुमारी बच्ची को ऑटो में लेकर जाते दिखे। पुकार को पता नहीं था कि वारदात सीसीटीवी में कैद है। वह अपने घर आकर रहने लगा।
पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुकार ने बताया कि उसके साथ किराए पर रहने वाली फूल कुमारी ने बच्ची को बेचने के इरादे से अगवा किया है। इसके बाद पुलिस ने रायपुर मौरी से बच्ची को बरामद कर फूल कुमारी को भी गिरफ्तार कर लिया।
फूल कुमार ने पूछताछ में कहा कि उसे पैसों की जरूरत थी। उसने देखा कि मां के फैक्टरी जाने के बाद बच्ची घर में अकेली रहती है। उसने पुकार को साजिश में शामिल किया। 16 अप्रैल को दोनों बच्ची को ऑटो में बिठाकर आनंद विहार रेलवे स्टेशन ले गए। वहां से महिला बच्ची को अपने साथ गांव ले गई।