पश्चिम बंगाल और असम में दूसरे चरण का मतदान खत्म, हुई बंपर वोटिंग


नेशनल डेस्क। असम विधानसभा चुनाव और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान खत्म हो गए है। दोनों ही राज्यों के 69 विधानसभा सीटों के लिए आज सुबह 7:00 बजे मतदान शुरू हुआ था जो कि लगभग शाम साढ़े छह बजे तक चला। चुनाव आयोग के मुताबिक दोनों ही राज्यों में मतदान शांतिपूर्ण रहा। सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। चुनाव आयोग ने कहा कि असम के दूसरे चरण की 39 विधानसभा सीटों पर शाम 5:00 बजे तक के 73.03% मतदान हुआ। जबकि पश्चिम बंगाल के दूसरे चरण में 30 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रतिशत शाम 5:00 बजे तक 80.43% रहा। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के दूसरे चरण में कुछ इलाकों में झड़पों के कारण स्थिति तनावपूर्ण होने की खबरें रही। हालांकि सभी निर्वाचन क्षेत्रों पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। पूर्व केंद्रीय मंत्री और टीएमसी नेता यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि हमारी जानकारी के अनुसार, ममता बनर्जी भारी अंतर से जीत रही हैं (नंदीग्राम में) और विपक्षी उम्मीदवार उनके पास भी नहीं हैं। वहीं, बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी 90% वोट बीजेपी (नंदीग्राम) में गए हैं।
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के दूसरे चरण में हाई-प्रोफाइल नंदीग्राम सीट समेत 30 निर्वाचन क्षेत्र शामिल हैं। पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर जिलों में नौ-नौ सीटों, बांकुड़ा में आठ और दक्षिण 24 परगना में चार सीटों पर कोविड-19 नियमों का सख्ती से पालन करते हुए मतदान हुआ। मतदान केंद्रों के बाहर लंबी कतारें देखी गई। मतदान शाम साढ़े छह बजे तक चलेगा। इन 30 सीटों पर 75 लाख से अधिक मतदाता 191 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे और सभी की निगाहें नंदीग्राम सीट पर हैं, जहां से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं और उन्हें भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी चुनौती दे रहे हैं। निर्वाचन आयोग ने सभी 10,620 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया था और वहां सुरक्षा मुहैया कराने के लिए राज्य पुलिस के अलावा केंद्रीय बलों की करीब 651 कंपनियों को तैनात की गई थी।
असम विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 39 सीटों के लिए मतदान हुए। शुरूआत में बड़ी संख्या में महिलाएं वोट डालने आईं और अधिकतर मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतारें देखी गईं। कुछ मतदान केंद्रों में ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत मिली थी। अधिकतर स्थानों पर लोगों को मास्क पहने और सामाजिक दूरी का पालन करने समेत कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करते देखा गया। 26 महिलाओं समेत 345 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला EVM में बंद हो गया। इस चरण में पांच मंत्री और निवर्तमान सदन के उपाध्यक्ष चुनाव लड़ रहे थे। बराक घाटी, पर्वतीय जिलों और मध्य तथा निचले असम में 13 जिलों के 10,592 मतदान केंद्रों में मतदान हुआ।