'जाकर मर जाओ ना' बीजेपी नेता के कोरोना संक्रमित बेटे से कोविड सेंटर कर्मचारी की संवेदनहीनता


  • लखनऊ में कोरोना संक्रमित मरीज से संवेदनहीनता का मामला
  • कोविड हेल्पलाइन कर्मी ने फोन पर कह- 'जाकर मर जाओ ना'
  • सत्तारूढ़ बीजेपी के नेता मनोहर सिंह के बेटे हैं पीड़ित संतोष सिंह
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण की भयावहता के बीच कोविड कमांड सेंटर की तरफ से संवेदनहीनता का मामला सामने आया है। सत्तारूढ़ बीजेपी के नेता और लखनऊ महानगर बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मनोहर सिंह के पुत्र से हेल्पलाइन कर्मी ने कहा 'जाकर मर जाओ', जिसका ऑडियो क्लिप भी वायरल हो गया है। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर बने एकीकृत कोविड कमांड सेंटर की महिला कर्मचारी ने कोरोना संक्रमित संतोष सिंह से फोन पर अभद्रता और संवेदनहीन तरीके से बात की। संतोष ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा लखनऊ के डीएम को भी पत्र लिखा है।
संतोष सिंह ने बताया कि 10 अप्रैल को उनके परिवार की कोविड-19 जांच की गई थी, जिसकी रिपोर्ट 12 अप्रैल को आई। पूरा परिवार कोरोना संक्रमित पाया गया। सभी लोग घर में ही आइसोलेट हैं। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में संतोष ने बातचीत में हेल्पलाइन के कर्मचारी की तरफ से 'जाकर मर जाओ' जैसी भाषा का प्रयोग करने का आरोप लगाया है। संतोष सिंह ने कमांड ऑफिस से 15 अप्रैल को आए फोन कॉल का हवाला देकर बताया, 'हेल्पलाइन की महिला कर्मी ने फोन पर पूछा कि क्या आप होम आइसोलेशन ऐप डाउनलोड कर उसमें नियमित जानकारी भर रहे हैं। मैंने कहा कि अभी तक किसी डॉक्टर की तरफ से इस संदर्भ में उनसे संपर्क नहीं किया गया है। और ना ही कोई जानकारी दी गई है। तब उधर से फोन करने वाली महिला कर्मी ने कहा- जाकर मर जाओ, तुम गंवार हो।'
मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने शिकायत करते हुए कहा कि इस तरह की बातें मरीजों से की जा रही हैं, जबकि इस समय हर आदमी दहशत में है। किसी कर्मचारी में मानवता नहीं रह गई है और न ही सरकार का डर। सब भगवान भरोसे है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर