कानपुर में कोविड हॉस्पिटल मरीजों से कर रहे अवैध वसूली, डीएम ने भेजा नोटिस, ऐंबुलेंस चालक पर एफआईआर दर्ज


कानपुर ब्यूरो। कानपुर में कोविड अस्पताल का दर्जा पाने के बाद कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल कोरोना मरीजों से इलाज के नाम पर अवैध वसूली कर रहे हैं। कोरोना मरीजों के उपचार के लिए शुल्क निर्धारित किया गया है, लेकिन प्राइवेट कोविड हॉस्पिटल ओवर बिलिंग कर रहे हैं। ओवर बिलिंग के मामले में डीएम कानपुर आलोक तिवारी ने फैमली हॉस्पिटल को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। हॉस्पिटल का जवाब आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। साथ ही संक्रमित का शव ले जाने के लिए ऐंबुलेंस ड्राइवर ने 3 हजार की अवैध वसूली की थी, जिसमें ऐंबुलेंस ड्राइवर पर एफआईआर दर्ज कराई गई है।
कानपुर में संक्रमितों बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन ने 16 निजी अस्पतालों को कोविड अस्पताल का दर्ज दिया था, लेकिन यह अस्पताल आपदा में अवसर ढूढ़ने की फिराक में लग गए हैं। कोविड अस्पतालों की निगरानी के लिए डीएम कानपुर ने स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए हैं।
ओवर बिलिंग की शिकायत पर होगी कार्रवाई
जिला प्रशासन के पास फैमिली हॉस्पिटल में ओवर बिलिंग की शिकायत आई थी। ओवर बिलिंग जांच एसीएम और एसीएमओ ने की तो शिकायत में सत्यता पाई गई। इस पर अस्पताल प्रबंधन को नोटिस जारी किया गया है। अस्पताल का जवाब आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन की मंशा है कि मरीजों को बेहतर इलाज मिले और उनसे ओवर चार्ज नहीं वसूला जाए।
जिला प्रशासन पहले ही यह बात स्पष्ट कर चुका है कि यदि किसी भी कोविड अस्पताल ने मरीजों से अधिक चार्ज वसूला तो उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही मरीजों के इलाज में किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए। लगातार सभी कोविड अस्पतालों में स्टेटिक मजिस्ट्रेट नजर बनाए हुए हैं।