दिल्ली पुलिस ने फर्जी कोरोना रिपोर्ट तैयार करने वाले एक डॉक्टर समेत पांच को किया गिरफ्तार


दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली पुलिस ने मालवीय नगर इलाके से फर्जी कोरोना रिपोर्ट तैयार करने वाले पांच को गिरफ्तार कर लिया है। पांच आरोपियों में से दो लैब टेक्नीशियन हैं, जबकि तीसरा एक टेस्टिंग लैब में डॉक्टर और एप्लीकेशन साइंटिस्ट है। वे लोग नमूने संग्रह कर लैब में बिना किसी एंट्री के जांच करते थे और लैब के फर्जी लेटरहैड पर रिपोर्ट प्रिंट करके देते थे। 
जेनस्ट्रेक्स डायग्नोस्टिक सेंटर के सीओओ चेतन कोहली ने कहा कि हम न केवल निराश हैं, बल्कि कुछ रुपयों के लिए किए गए इस कार्य से दुखी हैं। चंद रुपयों के लिए लोगों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं। हम जांच अधिकारियों के साथ हैं और आरोपियों के खिलाफ की गई किसी भी कार्रवाई का समर्थन करते हैं। 
जेनेस्ट्रिंग्स डायगनॉस्टिक सेंटर ने कहा कि जब कुछ मरीजों ने जांच रिपोर्ट की सत्यता जानने के लिए हमसे संपर्क किया तो हमें पता चला कि न ही ये रिपोर्ट हमने जारी की थी और न ही टेस्ट किया था। उन्होंने ये भी कहा कि, इस पूरे मामलें में हमारे पांच कर्मचारी जुड़े थे, जिसकी हमें जानकारी भी नहीं थी।