सड़क पर हिल रही थी ऐम्बुलेंस,शक होने पर पुलिस ने देखा तो उड़े होश, आपत्तिजनक हालत में 3 युवक और 1 युवती गिरफ्तार


  • ऐम्बुलेंस में रंगरलियां मना रहे चार लोगों को पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा है
  • लोगों ने जब ऐम्बुलेंस में झांका को उनके होश उड़ गए
  • ऐम्बुलेंस वाराणसी के मंडुवाडीह इलाके के निजी अस्पताल की है
वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में कोरोना संकट के बीच ऐम्बुलेंस में रंगरलियां मना रहे चार लोगों को पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा है। शर्मसार करने वाला मामला वाराणसी के रामनगर थाना क्षेत्र के सुजाबाद इलाके का है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में ऐम्बुलेंस को सील करने के साथ ही घटना में शामिल युवक-युवतियों पर मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया है।
जानकारी के मुताबिक, सुजाबाद चौकी के सामने लंबे समय से खड़ी ऐम्बुलेंस को समय- समय पर जब इलाके के लोगो ने हिलता देखता तो उन्हें ऐम्बुलेंस में किसी मरीज के होने का शक हुआ। लेकिन जब काफी समय बाद भी ऐम्बुलेंस वहां से नहीं गई तो अनहोनी की आशंका में हिलता ऐम्बुलेंस देख लोग उसके पास पहुंच गए। लोगों ने जब ऐम्बुलेंस में झांका को उनके होश उड़ गए।
ऐम्बुलेंस को किया सील
स्थानीय लोगो ने ऐम्बुलेंस में 3 युवक और 1 युवती को आपत्तिजनक हालत में देखा। जिसके बाद लोगो ने इनकी जानकारी पुलिस चौकी को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने ऐम्बुलेंस में रंगरेलियां मना रहे युवक युवतियों को थाने ले आई। एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में रामनगर थानाध्यक्ष वेद प्रकाश राय ने बताया कि ऐम्बुलेंस में आपत्तिजनक हालत में मिले युवक युवतियों को सम्बंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है। इसके साथ ही ऐम्बुलेंस को भी सील कर दिया गया है।
निजी अस्पताल की है ऐम्बुलेंस
पुुुलिस के मुताबिक, ऐम्बुलेंस वाराणसी के मंडुवाडीह इलाके के निजी अस्पताल की है। जिसे लंका के एक व्यक्ति ने किराए पर ले रखा गया। इसी ऐम्बुलेंस से ये शख्स मरीजों को लाने ले जाने के लिए करता था।