तेल माफिया की 5 करोड़ की संपत्ति कुर्क, रिफाइनरी की पाइप लाइन में लगाता था सेंध


मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा थाना हाईवे क्षेत्र अंतर्गत रिफाइनरी की पाइप लाइन से तेल चोरी कर संपत्ति अर्जित करने वाले अपराधी सुजीत प्रधान पर जिला प्रशासन ने ऐक्‍शन चाबुक चलाया है। राजस्व विभाग की टीम के साथ पुलिस ने तेल माफिया की करोड़ो की प्रॉपर्टी को कुर्क करने की कार्रवाई की है।
साल 2017 में मथुरा से जालंधर जा रही रिफाइनरी की पाइप लाइन से वॉल्व लगवाकर तेल चोरी की घटनाओं को सुजीत प्रधान निवासी पालीखेड़ा अपने सहयोगियों की मदद से अंजाम से दिया करता था। पुलिस ने 2017 में कार्यवाई करते हुए सुजीत प्रधान और उसके कई साथियों को गिरफ्तार कर जेल भी भेजा था। तेल चोरी की घटना में प्रयुक्त होने वाले टैंकरों को घटनास्थल से 200 मीटर की दूरी पर थाना हाईवे पुलिस के द्वारा बरामद किया गया था।
अब थाना हाईवे पुलिस और राजस्व विभाग की टीम ने अवैध तरीके से धन अर्जित करने वाले आरोपी की 1.1435 हेक्टेयर जमीन को धारा 14/1 के तहत कुर्क किया है। कुर्क की गई जमीन की कीमत 5 करोड़ 30 लाख 87 हजार रुपए आंकी गई है। सुजीत प्रधान की अचल संपत्ति को जिला प्रशासन ने अपने कब्जे में ले लिया है। प्रशासन के द्वारा थाना हाईवे क्षेत्र के अंतर्गत पाली खेड़ा के आस-पास सुजीत प्रधान के द्वारा अवैध तरीके से तेल चोरी कर कमाई गई अचल संपत्ति पर प्रशासन ने कुर्की करने की कार्रवाई का बोर्ड लगा दिया है।
एसएसपी मथुरा डॉ गौरव ग्रोवर ने 29 मई की शाम को सुजीत प्रधान के खिलाफ की गई कार्यवाही की जानकारी देते हुए बताया कि गैंगस्टर सुजीत प्रधान के ऊपर कई मुकदमे दर्ज हैं। काले तेल की चोरी के साथ-साथ मथुरा जालंधर रिफाइनरी की पाइप लाइन से कच्चा तेल बड़ी मात्रा में चोरी करने का भी आरोपी है। शासन की मंशा के अनुरूप धारा 14/1 के तहत कार्यवाही करते हुए तेल माफिया सुजीत की अचल संपत्ति को कुर्क किया गया है।