70 हजार में बेच रहे थे कन्संट्रेटर, चीन से मंगाते हैं उपकरण, ऑटो मोबाइल इंजीनियर समेत दो गिरफ्तार


दिल्ली ब्यूरो। बाहरी जिला के एएटीएस ने ऑक्सीजन कन्संट्रेटर की कालाबाजारी करने के आरोप में एक ऑटो मोबाइल इंजीनियर समेत दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान इंजीनियर द्वारका निवासी नीलांश (24) और इसका साथी बल्लीमारान, चांदनी चौक निवासी मोहम्मद दानिश (31) के रूप में हुई है। पुलिस ने नीलांश के पास से एक कार व दस ऑक्सीजन कन्संट्रेटर बरामद किए हैं। वहीं दानिश के पास से 2000 ऑक्सी मीटर बरामद किए गए हैं। नीलांश के परिवार का मेडिकल उपकरणों का काम है। यह चीन से मेडिकल उपकरण मंगाकर बेचते हैं। 
नीलांश ने ऑक्सीजन कन्संट्रेटर 28 हजार के मंगाए थे और उनको 70 हजार में बेच रहा था। वहीं 325 रुपये के ऑक्सी मीटर को तीन गुना कीमत पर बेचा जा रहा था। पुलिस दोनों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त परविंदर सिंह ने बताया कि लोकल पुलिस के साथ जिले का एएटीएस भी कोविड महामारी के दौरान कालाबारी करने वालों पर नजर बनाए हुए है। 
इसी कड़ी में सोमवार को टीम को सूचना मिली कि नीलांश नामक युवक मुंडका इंडस्ट्रियल मेट्रो स्टेशन पर ऑक्सीजन कन्संट्रेटर सप्लाई करने आने वाला है। सूचना मिलने के बाद हवलदार रुपेश को नकली ग्राहक बनाकर नीलांश के पास भेजा गया। नीलांश से ऑक्सीजन कन्संट्रेटर का सौदा 70 हजार में तय हुआ। 
इसके बाद इशारा मिलते ही पुलिस की टीम ने आरोपी नीलांश को मौके से दबोच लिया। उसकी कार से 10 कन्संट्रेटर बरामद हुए। नीलांश ने बताया कि उसका साथी मो. दानिश चांदनी चौक के फतेहपुरी इलाके में ऑप्टिकल शॉल चलाता है। पुलिस ने छापेमारी कर दानिश को चांदनी चौक से गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से 2000 ऑक्सी मीटर बरामद हुए। पुलिस दोनों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।