बुलंदशहर स्याना हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज जीता


बुलंदशहर। स्याना हिंसा के मुख्य आरोपी और बजरंगदल के पूर्व जिला संयोजक योगेश राज ने वार्ड नंबर-5 से जिला पंचायत सदस्य के चुनाव में जीत दर्ज की है। जमानत पर जेल से बाहर आए योगेश राज निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव मैदान में उतरे थे। इन्होंने प्रतिद्वंदी निर्दलीय प्रत्याशी निर्दोष चौधरी को 2150 वोटों से हराया है। बता दें कि 3 दिसंबर 2018 को बुलंदशहर के स्याना में गोकशी को लेकर हिंसा हुई थी। हिंसा में स्याना कोतवाली के प्रभारी पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की न सिर्फ गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, बल्कि हिंसा में शामिल एक स्थानीय युवक सुमित की भी गोली लगने से मौत हो गई थी। हिंसा में बलवाइयों ने चिंगरावठी पुलिस चौकी और वहां खड़े दर्जनों वाहनों को फूंक दिया था। इस मामले में 28 नामजद और 50-60 अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी। इस मामले में स्याना कोतवाली पुलिस ने योगेश राज को मुख्य आरोपी बनाया था। योगेश पर हिंसा को भड़काने के साथ इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या करने का भी आरोप है। फिलहाल योगेश राज जेल से जमानत पर बाहर चल रहा है। योगेश राज का कहना है कि आम आदमी की जरूरतों की पूर्ति राजनीति में आकर की जा सकती है, जिसके लिए चुनाव लड़े हैं। क्षेत्र का विकास उनकी प्राथमिकता है।