रिकवरी रेट सुधरने से नोएडा के अस्पतालों में बेड की मारामारी हुई कम


  • पोर्टल पर दिखने लगे वेंटिलेटर और ऑक्सिजन युक्त खाली बेड
  • बीते दस दिन में रिकवरी रेट में 4 प्रतिशत की हुई वृद्धि
  • 15 वेंटिलेटर दोपहर तक खाली, शाम होते हो गए फुल
  • ऑक्सिजन वाले 45 बेड और 752 सामान्य बेड खाली
नोएडा ब्यूरो। जिले में ऑक्सिजन की सप्लाई बढ़ने और रिकवरी रेट में वृद्धि से अब राहत भरी खबरें सामने आ रही हैं। शहर में 10 दिन पहले ऑक्सिजन बेड व वेंटिलेटर को लेकर मारामारी मची हुई थी, अब यह समस्या लगभग खत्म होती दिख रही है। जिला प्रशासन की ओर से बेड की जानकारी के लिए शुरू किए गए पोर्टल पर बुधवार सुबह 15 वेंटिलेटर और 78 ऑक्सिजन बेड खाली थे। हालांकि, शाम होते होते वेंटिलेटर की सुविधा वाले 15 बेड फुल हो गए। वहीं, ऑक्सिजन वाले 45 बेड और 752 सामान्य बेड कोविड अस्पताल में खाली थे।
10 दिन में 4 प्रतिशत बढ़ा रिकवरी रेट
जिले का 1 मई को रिकवरी रेट 80.7% था, जबकि 11 मई को यह बढ़कर 84.5 हो गया है। तर्क दिया जा रहा है कि लगातार रिकवरी रेट बढ़ने व संक्रमण की रफ्तार कम होने से अस्पताल में बेड खाली हो रहे हैं। पोर्टल मिली जानकारी के मुताबिक, सेक्टर 39 कोविड अस्पताल में 9 ऑक्सिजन बेड और 32 सामान्य बेड खाली थे। इसके अलावा ग्रेटर नोएडा स्थित यथार्थ अस्पताल में 33 नॉर्मल और 1 ऑक्सिसजन बेड खाली थे। वहीं शारदा अस्पताल में सबसे ज्यादा 35 ऑक्सिजन बेड खाली थे। इसके साथ 471 सामान्य बेड भी खाली थे। जिम्स में 7, शर्मा में 15, ईएसआईसी में 13, प्रकाश में 36, निम्स में 84, एसआरएस में 38 सामान्य बेड खाली हैं।
बेड के प्रकार -कुल बेड -रिक्त बेड
आईसीयू/वेंटीलेटर बेडः 843 -00
ऑक्सिजन बेडः 196-45
सामान्य बेड 1073 -752
अस्पतालों में बेड की स्थिति
अस्पताल -आईसीयू/वेंटीलेटर -ऑक्सिजन बेड
जेपी अस्पतालः 90 -212
जेआर अस्पताल 10-20
इंडोगल्फ अस्पताल 8- 34
प्रकाश अस्पताल 24-40
यथार्थ अस्पताल ग्रेनो 70-95
आईटीएस सूर्या 3-35
एसआरएस अस्पताल 11 -46
कैलाश सेक्टर 27 100 -160
जेएस अस्पताल 4- 6
मैट़ो अस्पताल 40 -134
निम्स 8-33
चाइल्ड पीजीआई 10- 50
त्रिपाठी अस्पताल 16- 24
नोएडा कोविड 28 -104
ईएसआईसी 12-60
जिम्स 40 -140
शर्मा मेडिकेयर 26- 22
डॉ. चैहान संजीवनी 8 -49
कैलाश अस्पताल ग्रेनो 54 -146
यथार्थ ग्रेनो 134- 230
कैलाश सेक्टर 71 30-68
शारदा मेडिकल केयर 80-110
फोर्टिस अस्पताल 35- 65