गाजियाबाद जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों के लिए वर्चुअल विधिक जागरूकता शिविर का किया गया आयोजन


सूर्य प्रकाश,(गाजियाबाद)। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के दिशानिर्देश तथा  प्रभारी जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  अरविंद कुमार यादव  के निर्देशानुसार दिनांक 05.05.2021 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में कोविड -19 के संक्रमण से बचाव एवं उनके रोखथाम के उद्धेश्य से सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गाजियाबाद नेहा रूंगटा द्वारा जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों के लिए वर्चुअल विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। य़ह वर्चुअल विधिक जागरूकता शिविर सचिव द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संचालित किया गया। सचिव द्वारा जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों के लिए कोविड-19 के संक्रमण से बचाव  के लिए उन्हें जागरूक किया गया तथा उनकी समस्याओं को सुना गया तथा सचिव द्वारा जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों को कोरोना वायरस के लक्षणों के संबंध मे विस्तृत जानकारी देते हुए उन्हें अवगत कराया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए वे अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता पर विशेष ध्यान दे तथा छींकते व खासते समय अपने मुह पर रुमाल अवश्य रखें एवं मास्क लगाए रखें। अपने हाथों को समय समय पर साबुन से धोते रहे अथवा सैनीटाईजर का प्रयोग करें तथा खुद को अस्वस्थ महसूस करने पर तुरंत जिला कारागार के चिकित्सक से संपर्क करें।

डिप्टी जेलर सुरेश कुमार सिद्धार्थ द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में जिला कारागार में कुल 5249 बंदियों निरुद्ध है। उनके द्वारा य़ह भी बताया गया कि वर्तमान मे 42 बंदी कोरोना से संक्रमित है, जिनको अलग रख कर उपचार किया जा रहा है।  60 वर्ष से अधिक सभी बंदियों को covid-19 की वैक्सीन लग चुकी है एवं अन्य बंदियों को वैक्सीन लगाने का कार्य चल रहा है।