पहली बार एएमयू पहुंचे सीएम योगी, कोरोना से कई प्रोफेसर्स की मौत के बाद लिया हालातों का जायजा


अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में बीते 3 हफ्तों में एक के बाद एक कुल 17 प्रोफेसर्स की मौत के मामले को प्रदेश सरकार ने बेहद गंभीरता से लिया है। दो दिन पहले एएमयू के वीसी तारिक मंसूर से बातचीत करने के बाद सीएम योगी गुरुवार को विश्वविद्यालय परिसर में पहुंचे। सीएम ने यहां वीसी समेत तमाम अधिकारियों से बातचीत की और संक्रमित कर्मचारियों के बारे में जानकारी ली।
सीएम योगी पहली बार अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के परिसर में पहुंचे हैं। सीएम गुरुवार को अलीगढ़, मथुरा और आगरा के दौरे पर हैं और अलीगढ़ में उन्होंने कोविड कमान सेंटर का भी दौरा किया है। सीएम ने एएमयू में कोरोना से संक्रमित लोगों के समुचित इलाज और हर संभव मदद के लिए प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश भी दिए हैं।
वीसी ने सीएम योगी से की थी बातचीत
बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कोरोना की स्थितियों के बीच 3 हफ्ते में 17 फैकल्टी मेंबर्स की जान चली गई है। इसके अलावा 10 से अधिक पूर्व शिक्षकों की भी मौत हुई है। मौत के इन आंकड़ों को देखते हुए वीसी तारिक मंसूर ने दो दिन पहले सीएम योगी से फोन पर बात की थी।सीएम ने प्रशासनिक अफसरों के माध्यम से वीसी को हर संभव मदद का भरोसा दिया।
आईसीएमआर कर रहा है सैंपल्स की जांच
दूसरी ओर वीसी तारिक मंसूर ने आईसीएमआर को चिट्ठी लिखकर मांग की है कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कोरोना सैंपल के जीनोम सीक्वेंस की जांच कराई जाए। वीसी ने यह आशंका जाहिर की है कि जिस कोरोना वायरस के सीक्वेंस के कारण एएमयू के प्रोफेसर्स की मौत हुई है, उसका स्ट्रेन अलग है। आईसीएमआर के अधिकारी एएमयू के सैंपल्स की जांच कर रहे हैं और इसकी जानकारी वीसी को भी दी गई है।