नासिक में तेज रफ्तार कार से कोविड अस्पताल का गेट तोड़कर अंदर घुसे बीजेपी पार्षद के पति, कर्मचारियों से मारपीट


नासिक,(महाराष्ट्र)। नासिक शहर में बीजेपी की एक पार्षद के पति ने अपनी इनोवा कार से कोविड अस्पताल का गेट तोड़ डाला और अस्पताल के लोगों के साथ बदसलूकी की। शहर के बिटको अस्पताल में शाम करीब साढ़े सात बजे बीजेपी पार्षद सीमा ताजने के पति अपनी सफेद रंग की इनोवा कार से पहुंचे और इसके बाद उन्होंने अस्पताल में लगे शीशे के दरवाजों को तोड़ डाला। तेज गति से कार कांच के दरवाजे को तोड़कर सीधे अस्पताल में जा घुसी। इस दौरान अस्पताल के शीशे तोड़ दिए गए और कर्मचारियों से मारपीट की गई।
कार चलाने वाले शख्स की पहचान पार्षद सीमा ताजने के पति राजेंद्र उर्फ कन्नू ताजने के रूप में हुई है। अस्पताल में शनिवार शाम हुई घटना के बाद यहां पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि जिस वक्त कार अस्पताल में दाखिल हुई, यहां शीशे के टूटने और हंगामे की आवाज सुनकर मरीजों के बीच हड़कंप मच गया। कुछ ही देर बाद कार फिर से अस्पताल से बाहर निकल गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद मेयर, चिकित्सा अधिकारी और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।
नगर निगम के अधीन है अस्पताल
जिस अस्पताल में यह घटना हुई, उसका संचालन नासिक का नगर निगम करता है। अस्पताल में नासिक शहर और दूसरे जिलों के कोविड मरीज अब भी भर्ती हैं। घटना के बाद स्थानीय प्रशासन और पुलिस के अफसर मामले की जांच कर रहे हैं। इसके अलावा इस संबंध में स्थानीय थाने में एफआईआर भी दर्ज करने की तैयारी की जा रही है।