महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के मलकापुर पुलिस स्टेशन पर किन्नरों ने किया कब्जा


मुंबई ब्यूरो। महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के मलकापुर पुलिस स्टेशन पर किन्नरों ने तकरीबन एक से डेढ़ घंटे तक जमकर उत्पात मचाया। आलम ये था कि किन्नरों के तांडव से परेशान होकर पुलिस वालों को पुलिस स्टेशन छोड़कर जाना पड़ा। आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि किन्नरों ने पुलिस स्टेशन को कब्जे में ले लिया है। तो आइए आपको इसके पीछे की वजह से भी वाकिफ करवाते हैं। दरअसल कुछ दिन पहले मलकापुर के एक किन्नर के घर में चोरी हुई थी। किन्नर ने पुलिस वालों पर आरोपियों पर उचित कार्रवाई ना करने का इल्जाम लगाया था। जब इस मामले की जानकारी आसपास के अन्य जिलों के किन्नरों को हुई तो सबने एक साथ मलकापुर पुलिस स्टेशन पर धावा बोल दिया। किन्नरों के उत्पात से परेशान पुलिस कर्मियों ने पुलिस स्टेशन के बाहर निकलना ही उचित समझा जब किन्नरों ने अपने कपड़े उतारने का प्रयास किया। हालांकि शाम तक नाराज किन्नरों को समझा बुझाकर मामला शांत करवाया गया। हालांकि तब तक किन्नरों के तांडव का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था।
बुलढाणा ज़िले के मलकापुर शहर के पंतनगर में रहने वाली किन्नर मोगराबाई के घर 7 मई को रात 2 बजे कुछ लोग घुस गए और धमकाते हुए 50 हजार रुपये, पासबुक सहित आधार कार्ड और जेवर लाइट कर ले गए थे। मोगराबाई ने कुल 50 लाख का माल लूटने की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई थी। पीड़ित किन्नर ने कुछ संदिग्ध लोगों के नाम भी बताए लेकिन पुलिस ने उनके खिलाफ सिर्फ एनसी दाखिल की थी। जबकि पीड़ित किन्नर आरोपियों पर डकैती का मुकदमा दर्ज करने की मांग कर रहे थे।