दिल्ली के केशवपुरम इलाके में विवाहिता की संदिग्ध हालात में हुई मौत


दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली के केशवपुरम इलाके में एक विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मृतका की पहचान सीमा (30) के रूप में हुई है। मंगलवार दिन में सीमा का शव एक बड़े पानी के ड्रम में मिला। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर बाबू जगजीवन राम अस्पताल भेजा। सीमा के मायके वालों ने हत्या कर उसके शव के ड्रम में डालने का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस को छानबीन के दौरान सीमा के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है।
उसमें सीमा ने अपनी मां से माफी मांगते हुए छोटे भाई को शादी करने के लिए कहा है। फिलहाल पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर सीमा के पति शैलेंद्र उर्फ विक्की को गिरफ्तार कर लिया है। केशवपुरम थाने के पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस के मुताबिक, सीमा अपने परिवार के साथ ओंकार नगर, बीबी नगर, केशवपुरम में रहती थी। इसका मायका मंगोलपुरी इलाके का है। वर्ष 2010 में सीमा की शादी शैलेंद्र उर्फ विक्की से हुई थी। दोनों के तीन बच्चे हैं। शैलेंद्र का केले का गोदाम है। सीमा के भाई प्रदीप कुमार ने आरोप लगाया कि शादी के बाद से उसकी बहन को परेशान किया जाता था।
छोटी-छोटी बातों पर उसकी सुसराल वाले उसको पीटते थे। पति शैलेंद्र के किसी दूसरी महिला से नजदीकियां भी थी। सीमा के विरोध करने पर उसे पीटा जाता था। सोमवार को सीमा ने रात में भाई को कॉल कर बुरी तरह पीटने की बात बताई थी।
इसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग भी प्रदीप के मोबाइल में है। इस बीच मंगलवार दोपहर के समय परिवार को सूचना मिली कि सीमा ने आत्महत्या कर ली है। परिजन उसकी ससुराल पहुंचे तो पुलिस शव कब्जे में ले चुकी थी। बाद में पता चला कि सीमा का शव बड़े पानी के ड्रम में मिला है।
प्रदीप ने आरोप लगाया कि उसकी बहन की हत्या कर शव को ड्रम में डाला गया। वहीं मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सुसाइड नोट और शुरूआती जांच से लगता है कि सीमा कुछ जहरीला पदार्थ खाकर ड्रम में बैठ गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। उसके कमरे से मिले सुसाइड नोट की लिखाई की जांच करवाने के लिए उसे एफएसएल की जांच के लिए भेजा जा रहा है। फिलहाल मामला दर्ज कर पति को गिरफ्तार किया गया है। आगे जांच के बाद तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।