अलीगढ़ में लव जिहाद! हिंदू किशोरी को जबरन उठाकर ले गए विशेष समुदाय के युवक, 2 दिन तक टरकाती रही पुलिस




अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ जिले के थाना इलाके के गांव में 2 दिन पहले दादी के साथ जा रही हिंदू किशोरी को विशेष समुदाय के कुछ युवकों ने रास्ते से जबरन उठाकर बाइक पर ले जाने मामला सामने आया है। आरोप है कि पीड़ित पक्ष की पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की और लव जिहाद के मामले में टाल-मटोल किया गया। घटना की जानकारी होते ही बीजेपी कार्यकर्ता इकट्ठा होकर थाने पर पहुंच गए। पुलिस पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न करने का आरोप लगाया गया। पुलिस ने थाने में भाजपाइयों का हंगामा बढ़ता देख आरोपियों के खिलाफ आनन-फानन में मुकदमा दर्ज कर लिया।
थाना जवां इलाके की बरौली चौकी क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक की बेटी को आठ अप्रैल 2017 को विशेष समुदाय के इमरान और गुलाबुद्दीन उठाकर ले गए थे। मामला कोर्ट में ट्रायल पर चल रहा है। एक आरोपित गुलाबुद्दीन पिछले दिनों ही जेल से जमानत पर छूटकर आया है। आरोप है कि बेटी अपनी दादी के साथ चंडौस थाना क्षेत्र के गांव पहावटी में बुआ के पास जा रही थी, तभी बरौली से टेंपो में बैठकर कटरा मोड़ पहुंची थी। जहां से दूसरा टेंपो के इंतजार में खड़ी हुई थी। उसी दौरान गुलाबुद्दीन और कुछ युवक उस जगह पहुंचे और नाबालिग बेटी को जबरन बाइक पर बिठाकर ले गए।
घटना के दौरान दादी ने आरोपी युवक गुलाबुद्दीन को पहचान लिया। पीड़ित का आरोप है कि मामले में गभाना पुलिस को जानकारी दी गई थी, लेकिन दो दिन में पुलिस ने न मुकदमा दर्ज किया और न ही आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई की। आरोपी 2017 में भी किशोरी को उठाकर ले गए थे। जिसका मामला कोर्ट में चल रहा है।
वहीं, बीजेपी महानगर मंत्री संजू बजाज ने कहा है कि आरोपी के मुकदमा दर्ज कर कानून कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि जिहादी मानसिकता के लोग कान खोलकर सुन लें कि अपनी हरकतों से बाज आएं वरना हमारे यहां हिन्दू लड़कों की कमी नहीं है क्रिया की प्रतिक्रिया भी अच्छी तरह दे सकते हैं। वहीं, थानाध्यक्ष गभाना ने कहा कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच की जा रही है। जल्ह ही आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।