खुद को दिल्ली का गैंगस्टर बताकर व्‍यापारी के भतीजे से मांगी 50 लाख की रंगदारी


बरेली। बरेली का एक उद्यमी का परिवार तब तनाव में आ गया जब उसके परिवार के एक सदस्य के मोबाइल पर 50 लाख की रंगदारी की मांग की गई। कॉल करने वाले ने रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी दी। कॉल करने वाला खुद को दिल्ली का गैंगस्टर बता रहा था। पुलिस ने जब उसका मोबाइल सर्विलांस पर लगाकर पड़ताल शुरू की तो सच सामने आया। वह बरेली का ही युवक निकला। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।
धमकाने के लिए भेजी थी पिस्टल की फोटो
बरेली शहर के उद्यमी अशोक गोयल अशोका फोम के मालिक हैं। उनका भतीजा नमन गोयल शहर के रामपुर गार्डन में रहता है। रंगदारी के लिए नमन के पास सबसे पहली कॉल वॉट्सऐप पर 2 मई की रात में आई। कॉल करने वाले ने कहा कि वह 50 लाख रुपया दे दे, नहीं तो उसे और उसके परिवार को जान से मार दिया जाएगा। उसके बाद फिर वॉयस कॉल की गई और खुद को दिल्ली का गैंगस्टर बताकर कॉल करने वाले ने रंगदारी की धनराशि भेजने के लिए एकाउंट नम्बर भी भेजा लेकिन जब उसको रंगदारी न दी गई तो उसने तमंचे का फोटो भेजकर जान से मारने के लिए फिर धमकाया और अपने नम्बर पर गूगल पे से 50 लाख रुपये भेजने को कहा।
परेशान गोयल परिवार ने शुक्रवार को एसएसपी रोहित सजवाण से मिलकर रंगदारी मांगे जाने की शिकायत की तो उन्होंने पुलिस की टीम बनाकर कॉल करने वाले की खोज में लगाया।
दो तमंचे के साथ पकड़ा गया
पुलिस टीम ने रंगदारी मांगने वाले का मोबाइल सर्विलांस पर लगाया तो पता लगा कि वह दिल्ली का गैंगस्टर नहीं बल्कि बरेली के शास्त्रीनगर में रहने वाला शिवम सिंह है। पुलिस ने शिवम को शहर में पुरानी जिला जेल के पास से धर-दबोचा। पुलिस के मुताबिक, उसके पास से दो तमंचे और कारतूस भी बरामद हुए। उसने नमन गोयल को कॉल करके रंगदारी मांगने की बात स्वीकर की।
दिल्ली में की थी छेड़छाड़, जा चुका है तिहाड़ जेल
पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि पकड़ा गया शिवम खुराफाती दिमाग का है। वह दिल्ली में एक छेड़छाड़ के मामले में तिहाड़ जेल में बंद रह चुका है। उसने कबूला की रंगदारी मांगकर वह ऐश की जिन्दगी बसर करना चाहता था। एसपी सिटी के मुताबिक, शिवम से इस बात की पूछताछ की जा रही है कि उसने किसी और को तो रंगदारी के लिए कॉल नहीं कि थी। उसे जेल भेजा जाएगा।