पेन ड्राइव लगाकर हैक कर लेते थे एटीएम का ओटीपी सिस्टम, 60 संदिग्ध मोबाइल नंबर रडार पर


गाजियाबाद ब्यूरो। एटीएम हैकिंग केस में पुलिस ने 60 संदिग्ध मोबाइल नंबरों को रडार पर लिया है। पेनड्राइव लगाकर एटीएम के ओटीपी सिस्टम को हैक किया गया था। जिस तरह से वारदात हुई थी, उससे साइबर एक्सपर्ट भी हैरान हैं। पुलिस और बैंक अधिकारियों को अब एटीएम की सुरक्षा का डर सता रहा है। नंदग्राम में पिछले महीने एटीएम हैक कर 17.20 लाख रुपये निकाले गए थे।
पुलिस ने एटीएम के आसपास वारदात के वक्त एक्टिव नंबरों की लिस्ट तैयार की है। उन्हीं में से 60 संदिग्ध नंबरों को सिलेक्ट कर ट्रेस किया जा रहा है। 6 मई को एक्सिस बैंक के एटीएम में पेनड्राइव से मालवेयर डालकर हैकिंग हुई थी। मशीन का ओटीपी सिस्टम इससे फेल हो गया था और बदमाशों ने 17.20 लाख रुपये निकाल लिए थे।
5 करोड़ रुपये तक की धांधली
एटीएम मेंटिनेंस का जिम्मा संभाल रही कंपनी ने बताया कि मशीन में पेन ड्राइव लगाने के बाद ओटीपी जेनरेट होता है। बगैर ओटीपी के पेनड्राइव सिस्टम से लिंक नहीं होती है। लेकिन, बदमाश ने जब पेनड्राइव लगाया तो मालवेयर की वजह से ओटीपी जेनरेट नहीं हुई और पेनड्राइव सिस्टम से लिंक हो गई। जांच में पता चला है कि पश्चिम बंगाल में कुछ गैंग ने इसी तरह से 5 करोड़ रुपये तक निकाले थे।