नासिक में युवक ने किन्नर से की शादी, नई बहू जैसा हुआ स्वागत


नाशिक। महाराष्ट्र के नाशिक शहर में एक अनोखी शादी इन दिनों चर्चा का केंद्र बनी हुई है। यह शादी आम शादियों से अलग इसलिए है क्योंकि इसमें एक युवक ने एक किन्नर से शादी की है। युवक के घरवालों ने भी शिवलक्ष्मी( किन्नर) खुशी खुशी खुले दिल से अपनाया है।
कहते हैं कि प्यार अंधा होता है, इसमें जात- पात, ऊँच-नीच, अमीर- गरीब और उम्र की कोई सीमा नहीं होती। अगर कुछ होता है तो सिर्फ निश्छल प्रेम। ऐसा ही माजरा महाराष्ट्र के नाशिक शहर में पेश आया है। जहां संजय झालटे नाम के युवक ने समाज और लोगों की परवाह ना करते हुए एक किन्नर को अपनी पत्नी बनाया है। इतना ही नहीं यह शादी पूरे रीति रिवाज से की गई है। इस शादी के जरिये संजय ने समाज के सामने एक मिसाल कायम की है। 
संजय झालटे की पहचान किन्नर शिवलक्ष्मी से टिकटॉक के जरिये पहचान हुई थी। फिर दोनों की सोशल मीडिया के जरिये दोस्ती हुई और प्यार परवान चढ़ा। बाद में दोनों ने शादी का फैसला किया। आम शादियों की तरह इनकी दोनों के परिवारों ने एक दूसरे को देखा और समझा। इसके बाद दूल्हा और दुल्हन की शादी मनमाड के प्राचीन शिव मंदिर में शादी करवा दी गयी। प्रेमी जोड़े की शादी में परिजनों ने भी कोई आपत्ति नहीं जताई और हंसी खुशी दोनों की शादी करवा दी।
किन्नर से शादी करने के बाद संजय झालटे ने कहा कि आखिरकार किन्नर भी एक इंसान ही है। उनकी भी अपनी जिंदगी है। ऐसे में उनके साथ शादी करने में क्या दिक्कत है। नई जिंदगी की शुरुआत करते हुए संजय ने एक गाने की कुछ पंक्तियां भी कहीं कि कुछ तो लोग कहेंगे लोगों का काम है कहना।
वहीं संजय की मां कहती हैं यह सब सुनकर अजीब लगता है कि बेटे ने एक किन्नर से शादी की है। लेकिन यह भी सच है कि दोनों ने समाज के सामने नया आदर्श प्रस्तुत लिया है। फिलहाल गांव के लोगों के लिए भी यह शादी चर्चा का विषय बनी हुई है।