एनसीबी ने ड्रग्स के मामले में इकबाल कासकर को किया गिरफ्तार



  • कश्मीर से आने वाले ड्रग्स के मामले में हुई गिरफ्तारी
  • हाल में एनसीबी में 25 किलो ग्राम चरस पकड़ी थी
  • यहीं से एनसीबी को अंडरवर्ल्ड कनेक्शन का पता चला था
कांती जाधव,(मुंबई ब्यूरो)। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के छोटे भाई इकबाल कासकर को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने अपने हिरासत में लिया है। ड्रग्स के मामले में यह गिरफ्तारी हुई है। फिलहाल इकबाल कासकर ठाणे जेल में बंद है। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले एनसीबी ने चरस के दो बड़े कंसाइनमेंट पकड़े थे। जिनको पंजाब के लोगों के जरिये कश्मीर से मुंबई बाइक के जरिये पहुंचाया जाता था। इस मामले की छानबीन में एनसीबी ने 25 किलोग्राम चरस पकड़ी थी। इसी मामले की तफ्तीश में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को अंडरवर्ल्ड कनेक्शन का भी सुराग मिला था।
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की जांच में यह भी पता चला कि अंडरवर्ल्ड का कनेक्शन, ड्रग के इस काले कारोबार में मुंबई से लेकर पंजाब और पाकिस्तान से लेकर खाड़ी देशों तक फैला हुआ है। इसी वजह से एनसीबी ने इकबाल कासकर को अपनी हिरासत लिया है। सूत्रों की मानें तो इकबाल कासकर को कुछ समय बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के दफ्तर में लाया जाएगा।
इकबाल कासकर को इसके पहले पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने गिरफ्तार किया था। शर्मा फिलहाल मनसुख हत्या मामले में एनआईए की हिरासत में हैं। प्रदीप शर्मा ने तब इकबाल कासकर को एक्सटॉर्शन के मामले में गिरफ्तार किया था। प्रदीप शर्मा तब ठाणे के एंटी एक्सटॉर्शन सेल में तैनात थे। उस समय इकबाल कासकर पर बिल्डरों और व्यापारियों को डरा धमका कर हफ्ता वसूली का आरोप था।
दुबई से प्रत्यर्पण करके लाने के बाद पहली बार प्रदीप शर्मा ने इकबाल कासकर को गिरफ्तार किया था और अब यह दूसरी गिरफ्तारी एनसीबी की तरफ से की गई है।