बरेली में दबंगों के खौफ से हिंदू परिवार का पलायन का ऐलान, दीवार पर लिखा-मकान बिकाऊ है


बरेली। यूपी के बरेली में एक हिन्दू परिवार में दूसरे समुदाय के कुछ लोगों पर परेशान करने का आरोप लगाया है और इस वजह से अपना मकान बेंचकर गांव से पलायन करने का ऐलान किया है। पुलिस अफसरों ने पीड़ित परिवार को जांच करके कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
पुलिस अफसरों से की शिकायत
मामला उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के इज्जतनगर थाना क्षेत्र के गांव नगरिया कलां का है। यहां के पीड़ित परिवार के लोगों ने बुधवार को एसएसपी और एडीजी कार्यालय में लिखित शिकायत की। इस परिवार की एक युवती की ओर से दिए शिकायती पत्र में कहा गया है कि उसके पड़ोस का एक लड़का घर में घुस आया और उससे छेड़छाड़ करने लगा। आरोप लगाया कि जब शिकायत करो तो वे लोग लड़ने पर आमादा हो जाते हैं। ऐसे में परिवार का गांव में रहना मुश्किल हो गया है। पीड़ित परिवार का कहना है कि उसने थाना पुलिस को दबंगों की शिकायत की और पुलिस ने एक आरोपी पर हल्की कार्रवाई कर उसको छोड़ दिया। उसके बाद से दबंगों के हौंसले और ज्यादा बुलंद हैं।
मकान पर लिखा यह बिकाऊ है
पीड़ित परिवार इस कदर खौफ के साए में है कि उसने अपना मकान बेंचकर गांव से पलायन करने का मन बना लिया है। इसके लिए अपना मकान बेंचने के लिए इस परिवार ने दीवार पर लिख दिया है कि यह मकान बिकाऊ है।
पुलिस बोली-गलत तरह से तूल दिया जा रहा मामला
वहीं, इस मामले में पुलिस का कहना है कि मामला कुछ और है, लेकिन किसी के कहने पर इस तरह से मामले को तूल दिया जा रहा है। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि यह मामला 28 मई का है। वादनी की बहन की शादी थी। शादी में दूसरे समुदाय की जमीन टेंट लगाने में प्रयोग की गई थी, लेकिन शादी के बाद जमीन पर पत्तल और गंदगी छोड़ दी गई थी। इस वजह से दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। इसमें पुलिस ने जमीन देने वाले के खिलाफ धारा 151 में कार्रवाई की।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर