गिरफ्तार हुआ आगरा का साइको किलर, सिर कुचलकर करता था हत्या


  • बंटी हत्याकांड में वांछित अपराधी मोहन प्रजापति को मंगलवार तड़के करीब तीन बजे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है
  • अपराधी किसी अन्य घटना को अंजाम देने के लिए आया था, पुलिस को इसकी जानकारी हो गयी थी
  • बदमाश को पकड़ने आई पुलिस टीम पर इस अपराधी नेन फायर कर दिया, जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी गोली चलाई
  • एक गोली बदमाश मोहन प्रजापति के पैर में लग गई, उसे प्राथमिक उपचार के लिए एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया गया है
आगरा। बंटी हत्याकांड में वांछित अपराधी मोहन प्रजापति को मंगलवार तड़के करीब तीन बजे पुलिस पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अपराधी किसी अन्य घटना को अंजाम देने के लिए आया था। पुलिस को इसकी जानकारी हो गयी थी। बदमाश को पकड़ने आई पुलिस टीम पर उसने फायर कर दिया। जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी गोली चलाई। एक गोली बदमाश मोहन प्रजापति के पैर में लग गई। उसे प्राथमिक उपचार के लिए एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया गया है।
सिर कुचलकर करता था हत्या
एसपी सिटी रोहन प्रमोद बोत्रे ने बताया मोहन प्रजापति शातिर किस्म का बदमाश है। हत्या करने का उसका तरीका साइको किलर की तरह है। करीब 20 दिन पूर्व थाना हरीपर्वत क्षेत्र के सेंट जॉन्स कॉलेज के पास जैन हॉस्टल के टॉयलेट में एक डेड बॉडी मिली थी। डेथ बॉडी बंटी नामक युवक की थी। बंटी की बेरहमी से सिर कुचलकर हत्या की गई थी। इस मामले की तफ्तीश में मोहन प्रजापति का नाम प्रकाश में आया था। आरोपी की तलाश की जा रही थी।
इस पर 25 हज़ार का इनाम भी घोषित किया गया था। एसपी सिटी ने बताया कि इससे पूर्व भी वह दो ऐसी हत्याएं कर चुका है जिन मामलों में वह जेल भी जा चुका है। आईजी नवीन अरोड़ा के नेतृत्व में वांछित अपराधियों को पकड़ने के इस अभियान में 24 घंटे में यह दूसरा अपराधी हाथ लगा है। इससे पूर्व 50 हज़ार का इनामी बदमाश विजय उर्फ करूआ को भी पकड़ा गया था।
आगरा पुलिस चला रही मोस्ट वांटेड को पकड़ने का अभियान
एसपी सिटी ने बताया कि वांछित अपराधियों को पकड़ने का अभियान जारी रहेगा। अपराधी मोहन प्रजापति से एक मोटरसाइकिल और तमंचा व कारतूस बरामद हुए हैं। गिरफ्तार करने वाली टीम में सीओ दीक्षा सिंह, इंस्पेक्टर अरविंद कुमार, इंस्पेक्टर अजय कौशल, निरीक्षक नरेंद्र सिंह, एसआई कुलदीप दीक्षित, एसआई मोहित सिंह, एसआई राजकुमार बालियान आदि शामिल रहे।