थाना लोनी पुलिस व क्राइम ब्रांच द्वारा लोनी में कपड़ा व्यापारी और उसके दोनों बेटों की हत्या का किया सफल अनावरण, मुख्य आरोपी गिरफ्तार


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद के लोनी कोतवाली इलाके में कपड़ा व्यापारी और उसके दोनों बेटों की हत्या का पुलिस ने चंद घंटों में खुलासा करते हुए मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस हत्याकांड को अंजाम देने वाला कोई और नहीं, बल्कि कपड़ा व्यापारी का सगा भतीजा ही निकला।
पुलिस ने तिहरे हत्याकांड का चंद घंटों में किया खुलासा
तीहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि 28 जून की सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि टोली मोहल्ले में बदमाशों ने लूट का विरोध करने पर एक कपड़ा व्यापारी व उसकी पत्नी और दो बेटों को गोली मार दी है। सूचना पर स्थानीय पुलिस पहुंची तो 62 वर्षीय कपड़ा व्यापारी रहीसुद्दीन, 26 वर्षीय बेटे अजहरुद्दीन व 24 वर्षीय इमरान की मृत मिले थे, जबकि रईसुद्दीन की 62 वर्षीय पत्नी फातिमा गंभीर रूप से घायल थी, जिन्हें घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया।जिसके खुलासे के लिए विशेष टीम का गठन किया गया। टीम ने तमाम सीसीटीवी फुटेज खंगाले और स्थानीय लोगों से पूछताछ की। इसके अलावा घर में मौजूद कपड़ा व्यापारी की पुत्रवधू अफसाना से भी पूछताछ की गई तो रहीसुद्दीन के भतीजे अय्यूब का नाम सामने आया।
ताऊ ने पैसे नहीं दिए तो उतारा मौत के घाट
पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर गहन पूछताछ की तो मामला चौंकाने वाला निकला। उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि वह स्क्रैप का व्यापार करना चाहता था। ताऊ रहीसुद्दीन की माली हालत अच्छी होने के कारण पिछले कई दिन से 10 लाख रुपये मांग रहा था, जब वह 27 जून को अपने ताऊ से पैसे मांगने के लिए गया तो अपने साथ एक पिस्टल भी ले गया। इस दौरान रईसुद्दीन ने पैसे देने से मना कर दिया। जिसके बाद उसे गुस्सा आ गया, लेकिन काफी समय हो जाने के कारण वह रात में ताऊ के घर ही सो गया और करीब 2:30 बजे अय्यूब ने अपने ताऊ पर जान से मारने की नीयत से गोली चला दी।
गोली की आवाज सुनी तो उनका लड़का अज्जू उर्फ अजरुद्दीन, इमरान और उसकी ताई फातिमा भी जाग गए और शोर मचाने लगे, इसलिए उन पर भी जान से मारने की नीयत से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इस दौरान रहीसुद्दीन की पुत्रवधू अफसाना भी आ गई। अफसाना ने उसकी शर्ट पकड़कर धक्का-मुक्की भी की थी। अय्यूब ने बताया कि उसने अफसाना को भी मारने के लिए पिस्टल लोड की, लेकिन पिस्टल के चेंबर में गोली फंस गई तो उसे धक्का देकर मकान की छत पर चढ़कर पीछे से कूदकर फरार हो गया। एसएसपी ने बताया कि आरोपी अय्यूब के पास से वह पिस्टल भी बरामद कर ली गई है। जिससे उसने अपने ताऊ और दोनों भाइयों एवं ताई पर गोली चलाई थी।