संपत्ति को लेकर बेटे ने मां-बाप की गला दबाकर हत्या की


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद के लोनी इलाके में बुजुर्ग माता-पिता की गला दबाकर हत्या करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने रविवार को आरोपी रवि ढाका को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से अपराध में इस्तेमाल की गई नाइलॉन की रस्सी, तौलिया, 15 हजार रुपये की नकदी और पांच लाख रुपये के सावधि जमा का प्रमाण पत्र बरामद किया गया है। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) इराज राजा ने कहा कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है। एसपी ने कहा कि रवि ने पुलिस को बताया कि उसने जिले के लोनी इलाके के बलराम नगर में अपने घर में शुक्रवार को अपने पिता सुरेन्द्र धाका (70) और मां संतोष (63) की हत्या की ।
अधिकारी ने कहा कि वह इस बात को लेकर चिंतित था कि पूरी पारिवारिक संपत्ति छोटे भाई के परिवार को दे दी जाएगी। रवि ने घटनास्थल पर लूट की कहानी बनाकर पुलिस को गुमराह किया। इसके लिये उसने घर का सामान और कपड़े इधर- उधर फेंक दिये और अलमारी खुली छोड़ दी।
पुलिस अधिकारी ने कहा कि रवि अपने छोटे भाई गौरव की पत्नी और बच्चों को वित्तीय मदद प्रदान करने के लिये अपने माता-पिता से जलता था। गौरव की ढाई साल पहले दुर्घटना में मौत हो गई थी। उसके पिता सुरेन्द्र, गौरव की पत्नी को उसकी संपत्ति भी देना चाहते थे। अधिकारी ने कहा कि रवि ने अपने माता-पिता की मर्जी के खिलाफ एक महिला से शादी की है।
पुलिस ने कहा कि कथित भेदभाव से नाराज रवि और उसके पिता के बीच घर पर अक्सर कहासुनी होती थी। इसके चलते आरोपी ने अपने माता-पिता को खत्म करने की योजना बनाई। रवि ने माता-पिता को जान से मारने के बाद नाटक करते हुए पड़ोसियों से कहा कि लूट के बाद उनकी हत्या की गई है। पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया, जो फॉरेंसिक विशेषज्ञ और खोजी कुत्ते के दस्ते के साथ वहां पहुंची। रवि ने मौत को लेकर प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी।