फर्जी आईएएस व आईपीएस अधिकारी बनकर करोड़ों रुपये ठगे


गाजियाबाद ब्यूरो। आईएएस व आईपीएस अधिकारी बनकर नौकरी लगवाने के नाम पर करोड़ों रुपये ठगने वाले अनुज प्रकाश ने मुंबई के कई लोगों से भी लाखों रुपये की ठगी की है। इस संबंध में एक पीड़ित ने गाजियाबाद पुलिस से संपर्क किया है। उसने कई लोगों के साथ ठगी की घटना बताते हुए कार्रवाई की गुहार लगाई। हालांकि, पुलिस ने पीड़ित से मुंबई में ही केस दर्ज कराने की सलाह दी है।
साइबर सेल ने गत 17 जून को विजय नगर थाना क्षेत्र के क्रॉसिंग रिपब्लिक स्थित सुपरटेक सोसायटी में रहने वाले अनुज प्रकाश को गिरफ्तार किया था। उस पर आरोप था कि उसने फर्जी आईएएस व आईपीएस अधिकारी बनकर सौ से अधिक लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी की है। उसके खिलाफ वैशाली सेक्टर-9 निवासी रिटायर्ड मेजर आर. हुड्डा ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। अनुज प्रकाश ने उन्हें सिंगापुर में नौकरी दिलाने के नाम पर 4.62 लाख रुपये तथा उनकी पत्नी शैफाली हुड्डा को सरकारी विभाग में पीआरओ की नौकरी लगवाने के नाम पर 3.90 लाख रुपये हड़प लिए थे। इसके अलावा सुनील सिंह नाम के व्यक्ति से भी नौकरी के नाम पर 40 हजार की ठगी की। अनुज प्रकाश रिटायर्ड सीओ का दामाद है, जिसे पुलिस जेल भेज चुकी है। आरडीसी स्थित अनुज प्रकाश के बैंक खाते में दो साल के भीतर दो करोड़ की ट्रांजेक्शन मिली थी। सीओ कविनगर अभय कुमार मिश्र ने बताया कि अनुज प्रकाश ने मुंबई के भी कई लोगों से नौकरी के नाम पर ठगी की है। वहां के रहने वाले एक व्यक्ति ने पुलिस से संपर्क कर ठगी की जानकारी दी थी।


Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर