कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर में चुंकबीय गुण आने का दावा, क्या कहता है विज्ञान?


  • कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से धातु की बनी चीजें चिपकने का दावा
  • कोविड वैक्सीन के असर से शरीर में चुंबकीय गुण आने का दावा कर रहे कुछ लोग
  • शरीर से कुछ चीजें चिपकने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है
  • हालांकि विज्ञान का कहना है कि इसके पीछे वक्सीन का असर नहीं है
नेशनल डेस्क। महाराष्ट्र के नासिक में अरविंद सोनार और दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके के एक शख्स का दावा है कि कोरोना की वैक्सीन लगवाने के बाद उनके शरीर में चुंबकीय गुण आ गए हैं। इन दोनों का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इनका कहना है कि उनका शरीर धातु से बनी वस्तुओं को अपनी ओर खींच रहा है, जैसे चुंबक लोहे को खींचता है।
वैक्सीन ने शरीर को बनाया चुंबक, क्या कहता है विज्ञान?
सोशल मीडिया पर भी शरीर से चिपकते चम्मच, थाली आदि का वीडियो शेयर किया जा रहा है। हालांकि, ऐसा नहीं है कि यह वैक्सीन लगाने के बाद ही हुआ है, दुनिया में कई ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं जिनमें लोगों ने शरीर में चुंबकीय शक्ति होने का दावा किया है। कई लोग तो अपने शरीर में बिजली के प्रवाह का भी दावा करते हैं और उनके वीडियोज भी वायरल होते रहते हैं। 
घर्षण का सिद्धांत
वैज्ञानिकों का कहना है कि ऐसी घटनाएं तो संभव हैं, लेकिन इसके पीछे शरीर में चुंबकीय शक्ति का आना या फिर कोई रहस्यमती ताकत नहीं होती है बल्कि इसका प्रमुख कारण भौतिकी के घर्षण का सिद्धांत होता है। हमें पता होना चाहिए कि हमारी चमड़ी बहुत मुलायम (इलास्टिक) होती है। इसीलिए, चमड़ी के चीर-फाड़ को 'प्लास्टिक सर्जरी' भी कहा जाता है। इसी लचीलेपन के कारण हमारी चमड़ी अपने संपर्क में आने वाली वस्तुओं से चिपक जाती है। कई बार जब हम ठंड के दिनों में गर्म कपड़े पहने होते हैं तो दूसरे से हाथ मिलाते वक्त भी हल्का करंट सा महसूस होता है। इसका कतई मतलब नहीं है कि शरीर में बिजली पैदा करने की क्षमता है।
वैज्ञानिकों का दावा है कि कुछ लोगों के शरीर चुंबकीय गुण के कारण चीजों को आकर्षित नहीं करते हैं बल्कि ऐसे लोगों में कुछ बातें आम होती हैं। मसलन, उनके शरीर पर कम बाल होते हैं। यही वजह है कि ऐसे चमत्कार के दावे करने वाले ज्यादातर लोग एशियाई देशों में ही पाए जाते हैं जहां के लोगों के शरीर पर ज्यादा बाल नहीं होते हैं। दूसरी बात ये कि ऐसे लोग शरीर के उन हिस्सों में ही वस्तुओं को चिपकाकर दिखाते हैं जहां बाल नहीं होते। यानी, चिकनी चमड़ी पर चिकनी सतह वाली चीजें ही चिपकती हैं। नासिक और दिल्ली के वायरल वीडियोज में भी दोनों शख्स अपनी बाहों और पीठ पर ही वस्तुएं चिपकाते दिख रहे हैं।
अब सवाल उठता है कि अगर उनमें चुंबकीय गुण है तो बनियान या शर्ट के ऊपर भी ये चीजें चिपक जानी चाहिए क्योंकि चुंबक में तो यह गुण पाया जाता है। साथ ही, उनके शरीर में बाल वाले हिस्सों में भी ये वस्तुएं चिपकनी चाहिए जो देखने को नहीं मिलता है। अगर चिकनी चमड़ी पर तेल लगा दें, फिर भी कोई वस्तु चिपके तब तो कोई रहस्य की बात मानी जा सकती है, लेकिन ऐसा भी संभव नहीं होता है।