पूर्वी दिल्ली में बुजुर्ग महिला के साथ दुष्कर्म के बाद चाकू से बुजुर्ग का गला और पैर काटा, आरोपित गिरफ्तार


कुलदीप यादव,(पूर्वी दिल्ली)। राजधानी दिल्ली के थाना न्यू अशोक नगर के दल्लूपुरा गांव में निर्भया कांड के दरिदों की तरह एक बुजुर्ग से दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला सामने आया है। दल्लूपुरा गांव में एक युवक ने घर के अंदर घुसकर सब्जी बेचने वाली एक 66 वर्षीय बुजुर्ग के साथ दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद दराती से बुजुर्ग का गला और पैर काट दिए। दुष्कर्म के सुबूत न मिले इसलिए चाकू से 25 से अधिक वार करके पेट और उसके नीचे का हिस्सा फाड़ दिया। वारदात के बाद आरोपित बड़े ही आराम से फरार हो गया।
महिला का बेटा जब नौकरी करके घर पहुंचा तो मां को निवस्त्र और खून से लथपथ पाया। बेटे की सूचना पर न्यू अशोक नगर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर चार घंटे के अंदर गांव से ही आरोपित विपिन डेढा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथियार भी बरामद कर लिया है।
पुलिस के अनुसार मूलरूप से बिहार के बेगूसराय की रहने वाली बुजुर्ग महिला अपने बेटे और 14 वर्षीय पोते के साथ दल्लूपुरा गांव में किराये पर रहती थी। बुजुर्ग का बड़ा बेटा बिहार में रहता है, जबकि छोटा बेटा नोएडा स्थित पंजाब नेशनल बैंक में सुरक्षाकर्मी की नौकरी करता है। बुजुर्ग अपने पोते के साथ घर के पास ही सब्जी की दुकान चलाती थीं। बैंक से आने के बाद बेटा भी दुकान में उनका हाथ बटाता था।
रविवार को बेटा ड्यूटी पर चला गया, बुजुर्ग तड़के मंडी से सब्जी लाई और पोते के साथ दुकान पर बेचने लगी। दोपहर 12 बजे बुजुर्ग अपने पोते को दुकान पर छोड़कर घर पर खाना बनाने के लिए आ गई। दो बजे जब बेटा ड्यूटी से घर लौटा तो मां की हालत देखकर उसके होश उड़ गए। मां के शव के पास दराती और चाकू पड़े हुए थे और पूरे कमरे में खून ही खून पड़ा हुआ था। सूचना मिलते ही थाना पुलिस के अलावा वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन काे सौंप दिया।
सीसीटीवी फुटेज से दबोचा गया आरोपित
निर्मम तरीके से की गई बुजुर्ग की हत्या की जांच के लिए पुलिस ने एसीपी कल्याणपुरी सुनील कुमार के नेतृत्व में थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार की एक टीम बनाई। टीम ने घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। कई फुटेज में आरोपित विपिन डेढा 1:10 बजे महिला के घर में दाखिल होता हुआ नजर आ रहा है। 20 मिनट बाद वह बाहर निकलता नजर आया। उसके हाथ पर खून दिख रहा है।
पुलिस पूछताछ में आरोपित ने बताया कि वारदात के वक्त उसने नशा किया हुआ था, दुष्कर्म के वक्त जब बुजुर्ग चिल्लाने लगी तो उसने गला दबाया और उसके बाद दराती से काट दिया। दुष्कर्म का सुबूत न मिले इसलिए पेट और उसके नीचे के हिस्से को चाकू से 25 से अधिक बार वार करके फाड़ दिया।