शाहजहांपुर में दवा व्यापारी ने पूरे परिवार के साथ की आत्महत्या, आर्थिक तंगी बनी वजह


  • शाहजहांपुर जिले में कर्ज में डूबे दवा व्यापारी ने पूरे परिवार के साथ की आत्महत्या
  • पुलिस को मिला सूइसाइड नोट, व्यापारी ने आर्थिक तंगी से जूझने की बात लिखी
  • मरने वालों में 12 साल का बेटा और 6 साल की बच्ची भी शामिल, इलाके में दहशत
शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर जिले में सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिले में चौक कोतवाली इलाके में एक ही परिवार के 4 लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिवार के चार सदस्यों के शव फंदे पर लटके हुए मिले। मरने वालों में 12 साल का बेटा और 6 साल की बच्ची भी शामिल है। आत्महत्या के पीछे आर्थिक तंगी और कर्ज की बात सामने आई है। पुलिस को मौके से एक सूइसाइड नोट भी मिला है, जिसके आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। फिलहाल पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।
पुलिस के अनुसार, घटना चौक कोतवाली क्षेत्र के कच्चा कटरा इलाके की है। यहां के रहने वाले अखिलेश गुप्ता (42) मेडिकल का काम करते थे। सोमवार को मोहल्ले वालों ने जब घर से किसी को बाहर निकलते नहीं देखा तो अंदर जाकर देखा। छत पर परिवार का मुखिया अखिलेश गुप्ता मकान के जाल से लटके हुए मिले। उनकी पत्नी रेशु (40) ग्रिल से फंदे पर लटकी हुई मिली।
पुलिस को मिला सूइसाइड नोट
इसके अलावा 12 साल का बेटा शिवांक (12) खिड़की की ग्रिल से लटका हुआ मिला। 6 साल की बच्ची अर्चिता (6) भी खिड़की की ग्रिल से लटकी हुई मिली। घर में ही चाय के चार कप भी मिले हैं। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। आत्महत्या के पीछे आर्थिक तंगी वजह निकल कर सामने आ रही है। पुलिस को एक सूइसाइड नोट भी मिला है।