सराय रोहिल्ला इलाके में कलस्टर बस बेकाबू होकर पुलिस बूथ में घुसी, एक की मौत


नई दिल्ली। उत्तरी दिल्ली के सराय रोहिल्ला इलाके में बृहस्पतिवार रात एक बेकाबू कलस्टर बस दो राहगीरों को कुचलने के बाद ट्रैफिक पुलिस के बूथ में जा घुसी। हादसे में एक राहगीर की मौत हो गई जबकि तीन पुलिसकर्मियों समेत कुल चार लोग जख्मी हो गए। सभी को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां दो की हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं फिलहाल मृतक शख्स की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस उनकी पहचान के प्रयास कर रही है।
हादसे के बाद कलस्टर बस का चालक मौके पर बस छोड़कर फरार हो गया। सराय रोहिल्ला थाना पुलिस ने बस को कब्जे में लेकर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। कुछ लोगों ने दावा किया है कि बस के ब्रेक फेल होने की वजह से हादसा हुआ है। पुलिस बस का मैकेनकल इंस्पेक्शन करवाने की तैयारी कर रही है। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से मामले की जांच की जा रही है।
जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हादसा सराय रोहिल्ला इलाके में कमल टी-प्वाइंट के पास हुआ। डीटीसी की कलस्टर बस देशबंधु गुप्ता रोड की ओर से आ रही थी। बस में चालक और अन्य स्टाफ के अलावा पांच-छह सवारियां मौजूद थी। अचानक कमल टी-प्वाइंट के पास बस बेकाबू हो गई। बस ने दो राहगीरों को कुचलने के बाद वहां सड़क किनारे बने ट्रैफिक पुलिस के बूथ को उड़ा दिया। हादसे में दोनों राहगीरों के अलावा तीन ट्रैफिक पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। 
घायल एएसआई गोविंद, हवलदार ऋषिपाल और एसआई किशन कुमार व दोनों राहगीरों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां एक राहगीर को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि राम कुमार (50) का अस्पताल में इलाज जारी है।
जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि गोविंद और ऋषिपाल करोलबाग ट्रैफिक सर्किल में तैनात है। वहीं एसआई किशन रोहिणी सर्किल में तैनात हैं। हादसे के समय किशन दोनों से मिलने इनके बूथ पर आए हुए थे। खबर मिलने के बाद क्राइम टीम के अलावा पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। मौके पर जाम की स्थिति भी बनी रही। पुलिस ने जाम खुलवाकर ट्रैफिक को गति दी। पुलिस आरोपी बस चालक की तलाश कर रही है।