कानपुर में भैंस चोर को ग्रामीणों ने दी तालिबानी सजा


कानपुर ब्यूरो। कानपुर में एक भैंस चोर को ग्रामीणों ने तालीबानी सजा दी है। ग्रामीणों ने चोर के हाथ-पैर बांध कर उसकी जमकर पिटाई की। युवक लोगों से रहम की भीख मांगता रहा। लेकिन ग्रामीणों ने किसी की नहीं सुनी। इससे भी ज्यादा हैरान करने वाली बात यह कि तालिबानी सजा देने के बाद उसे मौके से भगा दिया। चोर की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस भी हरकत में आ गई है।
सिकंदरा थाना क्षेत्र के खोजाफूल गांव में रहने वाले मोहम्मद शाकिर खेती किसानी का काम करते हैं। बीते मंगलवार रात दो चोर भैंस खोलने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान मोहम्मद शाकिर को आहट लगी तो उनकी नींद खुद गई। जब शाकिर ने बाहर निकल कर देखा तो दो चोर भैंस लेकर जा रहे थे। उन्होने शोर मचाकर आसपास के लोगों को इकट्ठा कर लिया। ग्रामीणों ने एक चोर को दबोच लिया। जबकि दूसरा अंधेरा का फायदा उठाते हुए भाग निकला।
चोर को दी तालिबानी सजा
मोहम्मद शाकिर ने ग्रामीणों की मदद से चोर के हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए। इसके बाद उसको जमकर पीटा, ग्रामीण चोर को बुधवार सुबह तक पीटते रहे। सुबह होने पर घसीटते हुए चोर आरसीसी सड़क पर पटक दिया। ग्रामीणों ने चोर को पुलिस के हवाले नहीं किया। बल्कि उसे गांव की तरफ दोबारा नहीं आने की चेतावनी देते हुए भगा दिया। पूछताछ में चोर ने अपना नाम हारू बताया था।
फोटो वायरल होने के बाद पुलिस मामले का संज्ञान
भैंस चोर की पिटाई की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने इस मामले को संज्ञान में लिया। सिंकदरा थानाध्यक्ष विद्यासागर सिंह का कहना है कि ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को नहीं दी। चोर को पीटकर कानून हाथ में लिया है। पिटाई करने वालों की चिन्हित किया जा रहा है। जांच के बाद सभी पर कार्रवाई की जाएगी।