यूपी धर्मांतरण रैकेट का मामला, पीड़ित परिवार ने कहा, 'धर्म परिवर्तन के लिए पाकिस्तान से धमकियों भरे फोन आए'


गाजियाबाद ब्यूरो। यूपी में जबरन धर्मांतरण के रैकेट का खुलासा होने के बाद कई पीड़ित परिवार पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुंचे हैं। धर्म परिवर्तन के पीड़ितों में से एक के परिवार ने पाकिस्तान से धमकी भरे फोन आने का दावा किया है। पीड़ित मनु यादव के पिता राजीव यादव ने आरोप लगाया कि उन्हें उनके बेटे के मोबाइल नंबर से पाकिस्तान के एक कॉलर ने फोन किया कि वह अपने बेटे को घर छोड़ने की अनुमति दे।
उन्होंने बताया कि जब ये पता चला कि मनु का मुफ्ती काजी जहांगीर आलम कासमी और मोहम्मद उमर गौतम ने धर्म परिवर्तन कराया है, तो उसे घर बुलाया गया। वह अपने दोस्तों से मिलने जाने की इजाजत के लिए रोता था। धमकियों और दबाव के बाद मनु को जाने दिया गया। तब से मनु लापता बताया जा रहा है। हालांकि, वह अपनी मां के संपर्क में है।
विदेश भेजने और कारोबार शुरू करने की बात
पता चला है कि उसने फोन पर बताया है कि कुछ दिनों बाद उसे विदेश भेजा जाएगा। इसके बाद उसे वहां कारोबार शुरू करने और किसी मुस्लिम महिला से शादी कराने में मदद की जाएगी।
यूपी एटीएस पीड़ित परिवारों से कर रही बात
यूपी एटीएस को 20 से ज्यादा परिवारों ने बयान में कहा है कि आरोपियों ने उनके बच्चों का धर्म परिवर्तन कराया है। पिछले दिनों एक वीडियो में मोहम्मद उमर गौतम को यह कहते सुना गया था कि उसने शादी, पैसे और नौकरी का लालच देकर 1000 लोगों का धर्म परिवर्तन कराया है। दोनों आरोपियों को दिल्ली के जामिया नगर से गिरफ्तार किया गया था। दोनों इस्लामिक दावा सेंटर चलाते थे।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर