1971 में भारतीय सेना के सामने सरेंडर वाली तस्वीर शेयर कर अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति ने पाकिस्तान को याद दिलाई उसकी औकात



अंतर्राष्ट्रीय डेस्क। अफगाननिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने इमरान सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि तालिबान की छवि सुधारने में पाकिस्तान लगा है। सालेह ने कहा कि पाक सेना तालिबान का समर्थन कर रही है। पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में मिसाइल अटैक की धमकी दी है। अमरुल्ला सालेह ने कहा कि पाकिस्तान की एयरफोर्स तालिबान की मदद कर रहा है। स्पिन बोल्डक इलाके में अफगान सेना की कार्रवाई पर पाकिस्तान ने हमले की धमकी दी है। सालेह ने दावा किया कि पाकिस्तान ने अफगान विमानों पर मिसाइल अटैक की धमकी दी है। 
अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने 1971 की एक ऐतिहासिक तस्वीर को ट्वीट किया और लिखा, 'हमारे इतिहास में ऐसी कोई तस्वीर नहीं है और न कभी होगी। हां, कल मैं एक सेकंड के लिए हिल गया क्योंकि एक रॉकेट ऊपर से उड़ता हुआ आया और कुछ मीटर की दूरी पर जा गिरा। प्रिय पाक ट्विटर हमलावर, तालिबान और आतंकवाद इस तस्वीर के आघात को ठीक नहीं कर पाएंगे। कोई अन्य तरीका खोजें।