फर्जी दस्तावेजों पर लोन लेकर ले ली 30 लाख की चमचमाती कार


राजीव गौड़,(दिल्‍ली ब्यूरो)। विकासपुरी पुलिस ने चार ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने फर्जी दस्तावेजों के अधार पर 20 लाख का कार लोन लिया और 30 लाख की चमचमाती कार ले ली। आरोपियों की पहचान बिजनौर निवासी राजीव, नोएडा निवासी अजहर खान, शाहदरा निवासी रवि शर्मा और शक्ति रावल के तौर पर हुई। लोन मिलने के बाद आरोपियों ने आरसी जमा नहीं करवाई। इंश्योरेंस कॉपी दी, लेकिन वह फर्जी थी। जिसके बाद बैंक ने शिकायत दी। पुलिस ने इनके पास से ठगी की रकम से खरीदी गई कार, ढाई लाख रुपए कैश, तीन आईफोन, एक लैपटॉप और लोन में इस्तेमाल फर्जी दस्तावेजों की कॉपी बरामद की है।
पुलिस अफसर के मुताबिक, 22 अप्रैल को बैंक ऑफ बडौदा के असिस्टेंट जनरल मैनेजर ने इस मामले को लेकर विकासपुरी थाने में शिकायत दी थी। जिसमें कहा गया आरोपियों ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर 20 लाख रुपए का कार लोन लिया है। पुलिस ने जांच शुरू की, आरोपियों के सभी ऑफिस और घर के पते फर्जी मिले। जांच में पुलिस को पता चला लोन इनकम टैक्स रिटर्न और घर ऑफिस के पते के आधार पर दिए गए थे।
लोन मिलने के बाद आरोपियों ने आरसी जमा नहीं करवाई। इंश्योरेंस कॉपी दी, लेकिन वह फर्जी थी। आरोपियों के मोबाइल भी बंद थे। आरोपियों ने आईसीआईसीआई बैंक में केवीएस ऑटोमोबाइल प्राइवेट लिमिटेड सेक्टर 16 ग्रेटर नोएडा के नाम से लोन लेने के लिए अकाउंट खोला था, लेकिन वह भी फर्जी मिला। टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस ने आरोपियों की पहचान कर उन्हें दबोच लिया।