यूपी एटीएस ने लखनऊ से 3 और संदिग्धों को किया गिरफ्तार, आतंकी संगठन से जुड़े तार


  • रविवार को दो संदिग्धों को पहले ही यूपी एटीएस गिरफ्तार कर चुकी है
  • गिरफ्तार संदिग्धों ने ही 3 और का नाम बताया था
  • यूपी एटीएस संदिग्धों के मोबाइल की जांच कर रही है
लखनऊ। यूपी एटीएस ने मसीरुद्दीन और मिनहाज अंसारी से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर तीन अन्य को गिरफ्तार किया है। इनमें मोहम्मद मुस्तकीम (44), मोहम्मद मुईद (29) और शकील (35) शामिल है। बता दें कि बीते तीन दिन पहले रविवार को यूपी एटीएस ने काकोरी क्षेत्र के दुबग्गा इलाके से दो संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया था। रविवार को पकड़े गए दोनों आतंकी मुशीरुद्दीन और मिनहाज को कोर्ट ने 14 दिन की रिमांड पर एटीएस को सौंपा था। पूछताछ के दौरान 3 नाम सामने आए थे। उनको एटीएस मुख्यालय पर पूछताछ के लिए बुलाया गया था। इस दौरान पाया गया तीनों लोग आतंकी गतिविधियों में संलिप्त हैं। आरोपियों ने अपना अपराध भी स्वीकार किया है। इसके बाद एटीएस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है और न्यायालय के सामने प्रस्तुत कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।
एनआईए सहित अन्य टीम भी करेंगी पूछताछ
एटीएस की टीम शकील को बिजनौर स्थित मुख्यालय ले गई है। जहां पर उसका अलकायदा के दोनों आतंकी मसीरुद्दीन और मिन्हाज अंसारी से आमना-सामना कराया जाएगा। एटीएस के साथ ही दिल्ली से आई स्पेशल सेल, एनआईए, रॉ और आईबी के अधिकारी आतंकी नेटवर्क से जुड़े सवाल-जवाब करेंगे। शकील पर आरोप है कि उसने ही कानपुर से दोनों आतंकियों को पिस्टल उपलब्ध कराई थी।
बीते तीन दिन पहले दो आतंकी हुए थे गिरफ्तार
एटीएस की टीम शकील के मोबाइल की डिटेल खंगाल रही है। वहीं, उसके ठिकानों पर छापेमारी करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। एटीएस ने रविवार को दो कथित आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था। इस मामले में अब तक हुई पूछताछ में पता चला है कि मसीरुद्दीन और मिन्हाज अंसारी दोनों कानपुर के नई सड़क और चमनगंज इलाकों में मदरसों में बार-बार आते थे, जहां कुछ अन्य सदस्यों को आतंकी गतिविधियों के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा था।