उत्तम नगर में दिन दहाड़े डकैती, बिजली कर्मी बनकर घर में घुसे, आधे घंटे तक की लूटपाट


  • घर वालों को बनाया बंधक, लाखों का कैश और जूलरी लेकर फरार
  • पूरी घटना सीसीटीवी में कैद, फुटेज के आधार पर तलाश रही है पुलिस
  • हेलमेट और मास्क पहने हुए थे सभी लुटेरे, पहचान की कोशिश जारी
  • प्रॉपर्टी डीलर के घर में उस वक्त मां, पत्नी, साला और छोटी बच्ची मौजूद थे
राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। उत्तम नगर में दिन दहाड़े लाखों की डकैती का एक मामला सामने आया है। इस सनसनीखेज डकैती को चार युवकों ने मिलकर अंजाम दिया। खुद को बिजली कर्मी बताकर यह लोग घर में दाखिल हुए। फिर हथियारों के दम पर घर में मौजूद चार लोगों को बंधक बनाया और आधे घंटे तक जमकर लूटपाट की। लाखों की जूलरी और कैश लूट ले गए।
डीसीपी द्वारका संतोष कुमार मीणा ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि घर के लोगों से पूछताछ की जा रही है। सीसीटीवी के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार घर के मालिक विनोद प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं। वारदात के समय वह घर पर मौजूद नहीं थे। घर पर उनकी मां, पत्नी, साला और उनकी छोटी बच्ची मौजूद था। पूरी घटना घर के ड्राइंग रूम के सीसीटीवी में कैद हो गई है। सीसीटीवी में दिख रहा है कि महिला घर का दरवाजा खोलती है और आरोपी उसे पिस्टल दिखाकर अंदर दाखिल हो जाते हैं। चार सुबह पिस्टल और चाकू दिखाकर घर में एंट्री करते हैं। इसके बाद वह घर में मौजूद युवक के हाथ पैर टेप से बांध देते हैं। इस दौरान विनोद की पत्नी और छोटी बच्ची को भी पिस्टल से डराया जाता है जिससे वो बुरी तरह सहम जाते हैं।
बताया जा रहा है कि इस दौरान आरोपी करीब आधे घंटे तक घर पर रहे। घर के लोगों से ही पूछकर उन्होंने लॉकर खुलवाया और लाखों का कैश और जूलरी लेकर फरार हो गए। घर में आए एक व्यक्ति ने हेलमेट पहन रखा था तो बाकी लोगों ने भी मास्क पहन रखे थे। पुलिस के मुताबिक परिजनों को डरा धमकाकर अलमारी के लॉकर का कोड पूछा और उसमें रखे पांच लाख से अधिक का कैश लेने के बाद जूलरी भी उन्होंने ले ली। साथ ही महिलाओं से उनकी पहनी हुई जूलरी भी उतरवाई। अहम तो यह है कि पीड़ित परिवार इस बिल्डिंग के चौथी मंजिल पर रहता है। आरोपी वहां सीढ़ियों से दाखिल हुए। बिल्डिंग की लिफ्ट में कुछ खराबी थी इसलिए फ्लैट के लोगों को लगा कि शायद वहीं ठीक करने लोग आए हैं। जबकि घटना के वक्त घर के मालिक विनोद अपने दफ्तर में मौजूद थे।
आरोपियों के जाने के बाद पीड़ित परिवार ने इस मामले की पूरी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस अब सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों का पता लगाने की कोशिश कर रही है।