उत्तर प्रदेश में ब्राह्मण चेहरे पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस!


कानपुर ब्यूरो। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियों में सभी राजनीतिक पार्टियां जुटी हैं। कांग्रेस पार्टी यूपी विधानसभा चुनाव पूरी ताकत के साथ लड़ने की तैयारी कर रही है। विधानसभा चुनाव की कमान प्रियंका गांधी के हाथों में हैं। बताया जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी प्रदेश में ब्राह्मण चेहरे पर यूपी विधानसभा चुनाव लड़ेगी लेकिन अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि वो चेहरा कौन होगा? इस संबंध में पार्टी कई नामों पर विचार भी कर रही है। प्रदेश की राजनीति में ब्राह्मण वर्ग की अहम भूमिका रहती है। बताया गया कि साल 2017 के विधानसभा चुनाव में यह वर्ग बीजेपी के साथ खुलकर आया था लेकिन प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद से ही लगातार ब्राह्मण वोटर बीजेपी से नाराज चल रहा है। एसपी, बीएसपी और कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी पार्टियां इस बात को जानती हैं कि ब्राह्मण वोट बैंक एक बड़ा हिस्सा प्रदेश सरकार से नाराज है। इसका फायदा उठाते हुए सभी राजनीतिक दल ब्राह्मण वोटरों को साधने में जुटे हैं।
ब्राह्मणों की नाराजगी का कांग्रेस उठाना चाहती है फायदा
कांग्रेस नेता ने बताया कि कांग्रेस पार्टी यूपी विधानसभा चुनाव में ब्राह्मण चेहरे को सीएम पद का उम्मीदवार घोषित करेगी। इसके साथ ही ब्राह्मण चेहरा बाहर का नहीं होगा, बल्कि यूपी का ही होगा। पार्टी कई नामों पर विचार भी कर रही है। इसके साथ ही सबसे खास बात यह है कि कांग्रेस पार्टी किसी भी दल से गठबंधन नहीं करेगी। यूपी की सभी विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारे जाएंगे।
उन्होने बताया कि यूपी की बात की जाए तो बीजेपी से ब्राह्मण वर्ग नाराज है। इसके साथ ही बीजेपी ने स्पष्ट कर दिया है कि वह विधानसभा चुनाव योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर लड़ेगी। रही बात एसपी और बीएसपी की तो दोनों पार्टियों के मुखिया खुद को सीएम पद के लिए प्रॉजेक्ट करते हैं। इसलिए कांग्रेस पार्टी ब्राह्मण चेहरे पर चुनाव लड़ेगी। यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी चुनाव की एक-एक बारीकियों पर नजर रख रही हैं।
कांग्रेस सेवादल के कानपुर-बुंदेलखंड प्रभारी संगीत तिवारी ने बताया कि यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के दिशानिर्देश पर चुनाव की तैयारियां की जा रही हैं। प्रियंका गांधी खुद कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से फोन पर बात कर रही हैं। इससे कार्यकर्ताओं का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है। कांग्रेस पार्टी बूथ और ब्लॉक स्तर पर काम कर रही है। ऐक्टिव कार्यकर्ताओं की सूची तैयार की जा रही है। ऐक्टिव कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ट्रेनिंग के बाद कार्यकर्ता डोर-टू-डोर जाकर सरकार की जनविरोधी नीतियों से जनता को अवगत कराएंगे। इसके साथ ही आमजन की समस्याओं को मुद्दा बनाकर सरकार को घेरने का काम करेंगे।