ऑनलाइन बेचते थे हथियार, 'भाई ऑफ हरदोई' और 'डीके खलनायक' नाम से चलाते थे गैंग


हरदोई। यूपी के हरदोई जिले की कोतवाली शहर पुलिस, एसओजी और स्वाट टीम ने ज्वाइंट ऑपरेशन में चार शातिर अपराधियों को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधी अवैध असलाह ऑनलाइन बेचते थे और मारपीट की सुपारी भी लेते थे। यह लोग 'भाई ऑफ हरदोई' और 'डीके खलनायक' नाम से गैंग भी चलाते थे। पुलिस ने इनके पास से दो तमंचा, बाइक और तीन मोबाइल बरामद किए हैं। एएसपी ने बताया कि इन दोनों गैंग में और भी लोग जुड़े हैं। पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है।
दोनों गैंग में अधिकतर युवा
एएसपी अनिल कुमार यादव ने बताया कि दोनों गैंग में ज्यादातर युवा हैं। यह काफी दिनों से इस इस धंधे में सक्रिय हैं। उन्होंने बताया कि रविवार दोपहर पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि यह लोग हरदोई बावन रोड पर पॉलिटेक्निक के पास किसी वारदात की फिराक में जमा हुए हैं। सूचना के बाद शहर कोतवाली पुलिस के साथ स्वाट और एसओजी टीम की संयुक्त टीम ने मुखबिर के बताए स्थान पर कांबिंग की।
मुठभेड़ के बाद किए गए गिरफ्तार
एएसपी ने बताया कांबिंग के दौरान एक बाइक पर सवार चार बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ हो गई। पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान रितेश उर्फ बाला श्रीवास्तव, विकाल सिंह, जितेंद्र उर्फ जीतू, राजेश सिंह उर्फ़ मोनू को गिरफ्तार किया। इनके पास से दो तमंचा और कारतूस, एक बाइक और तीन मोबाइल भी बरामद हुए हैं। इनमें रितेश उर्फ बाला पर 8 मुकदमे, जिनमें 3 हत्या के प्रयास से सम्बंधित पहले से दर्ज हैं और राजेश सिंह पर एक मुकदमा बेनीगंज में दर्ज है।