फर्जी आरपीएफ अधिकारी बन झाड़ रहा था वर्दी का रौब, दिल्ली जा रहा था, हुआ गिरफ्तार


  • ट्रैन से गिरफ्तार हुआ आरपीएफ का फर्जी असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर
  • दिल्ली जाने वाली ट्रेन में वर्दी पहन कर कर रहा था बगैर टिकट के यात्रा
  • रेलवे पुलिस को हुआ शक तो पहुंचा सलाखों के पीछे
भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर जिले में गुरुवार को रेलवे पुलिस ने ट्रेन से आरपीएफ के नकली पुलिसकर्मी को गिरफ्तार किया है। फर्जी पुलिसकर्मी भरतपुर से दिल्ली जाने के लिए बिना टिकट ट्रेन में चढ़ा था, लेकिन जैसे ही ट्रेन की बोगी में गश्त कर रहे आरपीएफ के गार्ड को शक हुआ, तो उन्होंने फर्जी पुलिसकर्मी का आई कार्ड देखा। इसके बाद पूरे मामले का खुलासा हो गया। बताया जा रहा है कि आरपीएफ के गार्ड ने जब उससे पूछताछ की, तो वह अपनी पहचान नहीं बता पाया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
भरतपुर से दिल्ली जा रहा था
आरपीएफ के अधिकारियों ने बताया की आज भरतपुर से दिल्ली जाने वाली ट्रेन में एक आरपीएफ का सब इंस्पेक्टर वर्दी पहन कर ट्रेन में चढ़ा था, लेकिन जिस बोगी में फर्जी पुलिसकर्मी चढ़ा, उसमें पहले से आरपीएफ के जवान गश्त कर रहे थे। वर्दी में देख आरपीएफ के जवानों ने फर्जी पुलिसकर्मी से पूछताछ की और आई कार्ड दिखाने को कहा लेकिन वह न तो आरपीएफ के जवानों के सवाल का जवाब दे पाया और न ही अपनी पहचान बता पाया। इसके बाद उसे आरपीएफ के जवानों ने हिरासत में ले लिया। फर्जी पुलिसकर्मी को मथुरा जंक्शन पर उतार लिया लेकिन कुछ देर बाद आरपीएफ के जवान उसे दोबारा भरतपुर आरपीएफ के थाने पर ले आये।
भरतपुर के सेवर का रहने वाला है आरोपी
वहीं पूछताछ में आरोपी से पता लगा है कि उसका नाम दीपक मीणा है। साथ ही वह बांसी खुर्द गांव थाना सेवर भरतपुर जिले का ही रहने वाला है। फिलहाल रेलवे पुलिस ने आरोपी को धारा 171 के तहत गिरफ्तार कर लिया है और आरोपी से पूछताछ की जा रही है। पुलिस की ओर से यह पता लगाने को कोशिश हो रही है कि कही ये युवक किसी गिरोह का हिस्सा तो नहीं है, या फिर ऐसे काम में कोई गिरोह तो काम नहीं कर रहा है।