कानपुर पुलिस ने शुरू किया गुर्ड मॉर्निंग कैंपेन, मॉर्निंग वॉक करने वालों को देगी सुरक्षा


कानपुर ब्यूरो। कानपुर कमिश्नरेट पुलिस ने मॉर्निंग वॉकर्स की सुरक्षा का बीड़ा उठाया है। जिसके तहत गुड मॉर्निंग कानपुर अभियान की शुरूआत की गई है। मॉर्निंग वॉक पर निकलने वाली महिलाओं, युवतियों, व्यापारियों, उद्यमियों की सुरक्षा के लिए पुलिस सादे कपड़ों में पुलिस मौजूद रहेगी। जिसका उद्देश्य मॉर्निंग वॉकर्स को अपराधियों से सुरक्षित रखना है। जिसकी शुरुआत गुरुवार को मॉर्निंग वॉकर्स को गुलाब का फूल देकर की गई। कानपुर के मॉर्निंग वॉकर्स ने पुलिस के इस अभियान की जमकर सराहना की है।
कानपुर में मॉर्निग वॉकरों के साथ कई लूट की घटनाएं हो चुकी है। संगठित गिरोह के सदस्य लूट, चेन स्नेचिंग या फिर लोहे की रॉड मारकर घायल करने जैसी वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। कानपुर कमिश्नरेट पुलिस ने मॉर्निंग वॉकरों की सुरक्षा को लेकर बड़ा कदम उठाया है। दरअसल सुबह के वक्त पुलिस रोड पर नजर नहीं आती थी। जिसकी वजह से मॉर्निंग वॉकरों को अपराधी अपना शिकार बनाते थे। पुलिस इसके लिए प्लान तैयार किया है। पुलिस ने शहरभर के मॉर्निंग वॉक स्पॉट को चिन्हित किया है। उन स्थानों पर पुलिस कर्मी सादे कपड़ों में मौजूद रहेंगे।
तीनों डीसीपी ने किया मॉर्निंग वॉक स्थलों का निरीक्षण
कानपुर कमिश्नर असीम अरुण के निर्देश पर तीनों डीएसपी अनूप कुमार, संजीव त्यागी और रवीना त्यागी ने अपने-अपने क्षेत्रों में मॉर्निंग वॉक स्थलों का निरीक्षण किया। सुबह टहलने के लिए आने वाले लोगों से उनकी समस्याओं के बारे में बातचीत की। पुलिस अधिकारियों ने देखा कि मॉर्निंग वॉक वाले स्थानों पर भिखारी रास्ते में बैठकर भीख मांग रहे हैं। मॉर्निंग वॉकर्स को परेशान कर रहे हैं। पार्कों में बैठकर लोग शराब पीते हैं, रोकने पर बदसलूकी करते हैं। इसके साथ ही मॉर्निंग वॉकर्स की सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम नहीं हैं।
यह है गुड मॉर्निंग कानपुर कैंपेन
एसीपी त्रिपुरारी पांडेय ने बताया कि गुड मॉर्निंग कानपुर के नाम से अभियान की शुरुआत की गई है। जो लोग सुबह टहलने के लिए आते हैं, उनके आसपास पुलिस सादे कपड़ों और वर्दी में मौजूद रहेगी। ताकि मॉर्निंग वॉकर्स को किसी तरह की असुविधा नहीं हो। किसी प्रकार का अपराधी महिला, बच्ची, व्यपारी, डॉक्टर, उद्यमियों के आसपास फटकने नहीं पाए। अपराध को रोकने के लिए इस मुहिम की शुरुआत की गई है।