द्वारका में अपहरण के बाद पांच लाख की फिरौती मांगने के मामले का खुलासा, तीन आरोपी गिरफ्तार


सुनील कुमार शर्मा,(दिल्ली ब्यूरो)। द्वारका में दिल्ली पुलिस ने अपहरण के बाद पांच लाख की फिरौती मांगने के मामले का खुलासा किया है। तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। फिरौती की रकम से खरीदी गई बाइक और 3.16 लाख रुपये भी बरामद कर लिए हैं।
अडिशनल डीसीपी शंकर चौधरी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मोहन गार्डन के डेविड उर्फ जतिन मलिक, सौरव और अर्जुन के रूप में हुई है। पुलिस ने इनके पास से वारदात में इस्तेमाल किए गए दो मोबाइल भी बरामद किए हैं। पुलिस के अनुसार, अपहरण की वारदात 3 जुलाई की सुबह हुई थी, जब पीड़ित चुन्नू गोदाम जाने के दौरान नवादा के सरकारी स्कूल के पास पहुंचा। उसी समय अचानक चार लड़कों ने सामने आकर उनका रास्ता रोका। इनमें से एक लड़के ने उनके सिर पर किसी सख्त चीज से वार कर बेहोश कर दिया। होश में आने के बाद भी चुन्नू की पिटाई की गई। जबरन उससे 5 लाख की फिरौती के लिए परिजनों को कॉल करवाया गया। पीड़ित के भाई नसीम को कॉल कर पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी गई। नसीम ने पैसों का इंतजाम कर डेविड को रकम दी। आरोपियों ने किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर पीड़ित को छोड़ दिया। आरोपियों ने 11 जुलाई को फिर पीड़ित को कॉल कर और पैसों की मांग की। पीड़ित ने इग्नोर कर दिया। किसी से इस बारे के बात भी नहीं की। 17 जुलाई को आरोपियों ने फिर से कॉल करके 7 लाख रुपये की मांग की, तो पीड़ित ने पुलिस में शिकायत कर दी। उत्तम नगर एसएचओ राम किशोर की देखरेख में पुलिस टीम ने मामले की जांच की और पूछताछ के आधार पर टेक्निकल सर्विलांस की सहायता से एक आरोपी डेविड को हिरासत में लिया। उसकी निशानदेही पर 2 और जीजा-साले की जोड़ी को पकड़ लिया गया। पुलिस अब चौथे आरोपी माया की तलाश में जुट गई है।