पुलिसकर्मियों से भिड़े दो छात्र, दो सिपाहियों की वर्दी फाड़ी


गाजियाबाद। विजयनगर में बुधवार रात ठेके के बाहर शराब पी रहे दो छात्र पुलिस से भिड़ गए। पहले तो उन्होंने पहले फैंटम पर पहुंचे दरोगा से अभद्रता की और फिर सिपाही की वर्दी फाड़ डाली। इसके बाद मौके पर पहुंची पीआरवी पर तैनात पुलिसकर्मियों को भी वर्दी उतरवाने की धमकी दे डाली। मशक्कत कर पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों की पहचान प्रताप विहार निवासी दिनेश सिंह और विकास सिंह के रुप में हुई है। केस दर्ज कर आरोपियों को जेल भेज दिया गया।
विजयनगर एसएचओ महावीर सिंह चौहान ने बताया कि कोटगांव फाटक के पास कुछ लोग ठेके के बाहर खड़े होकर शराब पी रहे थे। सूचना पर दरोगा भूपेंद्र सिंह व सिपाही नरेंद्र फैंटम लेकर मौके पर पहुंचे तो वहां मौजूद लोग भागने लगे, लेकिन दो युवक वहीं खड़े रहे। दरोगा ने उन्हें जाने के लिए कहा तो वह टस से मस नहीं हुए। जेल भेजने की चेतावनी देने पर दोनों युवक दरोगा व सिपाही से भिड़ गए। दरोगा के साथ गाली-गलौज करने पर सिपाही ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की तो युवकों ने मारपीट करते हुए उसकी वर्दी फाड़ दी। मामला बढ़ता देख फोन करके और पुलिस बुलाई गई, जिसके बाद पीआरवी भी मौके पर पहुंच गई। पीआरवी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें पकड़ने की कोशिश की तो दोनों युवक उनसे भी भिड़ गए और अन्य सिपाही की वर्दी फाड़ दी।
एसएचओ ने बताया कि दोनों युवकों ने पुलिसकर्मियों को खुली चुनौती दी कि वह उनका कुछ नहीं कर पाएंगे। वह उनकी वर्दी तक उतरवा देंगे। जैसे-तैसे दोनों को काबू कर पुलिस थाने लेकर आई। दोनों की पहचान प्रताप विहार निवासी दिनेश सिंह व विकास सिंह के रूप में हुई है। दिनेश स्नातक तो विकास बीटेक का छात्र है। एसएचओ का कहना है कि मारपीट, सरकारी कार्य में बाधा व धमकी का केस दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया गया।