वेबसाइट पर शादी के लिए ऐड देकर पहले दोस्ती, फिर झूठे रेप का आरोप लगाकर ब्लैकमेलिंग


नोएडा ब्यूरो। यूपी के नोएडा में पु‍ल‍िस ने ब्लैकमेलिंग को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। बिसरख पुलिस ने पति की मौत के बाद मेट्रोमोनियल साइट पर शादी का विज्ञापन देकर लोगों को लूटने वाली महिला और उसके साथी को गुरुवार को अरेस्ट किया है। इस गैंग में शामिल महिला का भाई अभी फरार है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। मेट्रोमोनियल साइट पर प्रोफाइल देखकर संपर्क करने वाले लोगों को महिला अपने जाल में फंसाती थी। वीडियो कॉलिंग के दौरान फोटो खींचकर उन्हें अश्लील बना देती थी। इसके बाद गिरोह के लोग अश्लील फोटो को पीड़ित को दिखाकर उन्हें रेप के केस में फंसाने की धमकी देकर मोटी रकम की डिमांड करते थे। यह गिरोह अब तक कई लोगों को अपना शिकार बना चुका है।
पुलिस की गिरफ्त में आई महिला पचंशील कॉलोनी गौड़ सिटी-2 निवासी शिवानी है। उसके पति शिवम की मौत हो चुकी है। उसका साथी अमित कुमार गाजियबाद में मोदीनगर के मोदीपोन का रहने वाला है। पीड़ित के मुताबिक, उन्होंने शादी के लिए मेट्रोमोनियल साइट पर आरोपी महिला का विज्ञापन देखकर बातचीत शुरू की। इसके बाद वह फेसबुक और वॉट्सऐप से भी महिला से जुड़ गए। महिला उनको वीडियो कॉल करने लगी। एक दिन महिला ने उन्हें अपने फ्लैट पर बुला लिया। यहां उसने अपने साथी अमित के साथ मिलकर उन्हें बंधक बना लिया।
अश्लील तस्वीरों को दिखाकर रेप के केस में फंसाने की धमकी
इस दौरान पीड़ित को वीडियो कॉलिंग के दौरान ली गई और दूसरी अश्लील तस्वीरों को दिखाकर रेप के केस में फंसाने की धमकी देते हुए 5 लाख रुपये की मांग की गई। बैंक मैनेजर 1 लाख रुपये देने को तैयार हो गए। इसके बाद महिला अपने साथी अमित के साथ बैंक मैनेजर की गाड़ी में बैठ गई और रुपयों की वसूली के लिए ग्रेनो की सड़कों पर चक्कर लगाती रही। एनजीओ से जुड़ी एक महिला की नजर आरोपी शिवानी पर पड़ी तो उसने पुलिस को इसके बारे में सूचना दी।
लुटेरी दुलहन की तलाश में जुटी पुल‍िस
बिसरख एसओ अनीता चौहान और उनकी टीम इस लुटेरी दुलहन की तलाश में जुट गई। गुरुवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया। पूछताछ में इन आरोपियों ने बताया कि कई लोग इनका शिकार होने के बाद लोक-लाज के डर से पुलिस के पास नहीं पहुंचते थे। इस गिरोह के बाकी सदस्यों की खोजबीन में पुलिस जुट गई है।
एनजीओ से जुड़ी महिला ने दी पुलिस को सूचना
मुंबई स्थित एसबीआई में कार्यरत 48 साल के मैनेजर की पत्नी का कुछ महीने पहले निधन हो गया था। अपनी 18 साल की बेटी की देखभाल के लिए वह दूसरी शादी करना चाह रहे थे। इसी बीच उन्होंने मेट्रोमोनियल साइट पर ग्रेनो वेस्ट की गौड़ सिटी में रहने वाली शिवानी का प्रोफाइल देखा। ई-मेल से संपर्क होने के बाद दोनों में फोन पर बातचीत होने लगी। महिला पीड़ित शख्स को बार-बार दिल्ली बुला रही थी। कोरोना के चलते वह दिल्ली नहीं आ पा रहे थे।