पति ने पत्‍नी पर फेंका तेजाब, चेहरा झुलसा, दिल्ली महिला आयोग की चीफ ने अस्‍पताल में की मुलाकात


दिल्‍ली ब्यूरो। देश में एसिड अटैक की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। हरियाणा में फरीदाबाद के हरकेश नगर में एक महिला पर उसके पति ने ही बेरहमी दिखाते हुए तेजाब और गर्म तेल फेंक दिया। इससे उसका चेहरा बुरी तरह से झुलस गया। महिला के पड़ोसी ने जब उसे इस हालत में देखा तो दिल्ली महिला आयोग को सूचित किया। महिला को तुरंत दिल्ली लाया गया। वह राजधानी के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती है। ट्रीटमेंट जारी है।
इस मामले की जानकारी मिलते ही दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल लड़की से मिलने अस्पताल पहुंचीं। अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें बताया है कि लड़की का चेहरा 35 फीसदी झुलस गया है। वह अभी बातचीत करने की हालत में नहीं है। महिला की हालत नाजुक है। आंख भी झुलसी हैं। लड़की ने घटना के बाद पड़ोसी को बताया था कि उसके पति ने उसके मुंह पर तेजाब फेंका।
घटना की जानकारी लगने पर महिला का बेटा भी अस्पताल पहुंचा। उसके मुताबिक, पहले भी उसके पिता ने उसकी मां को बहुत बुरी तरह से मारा पीटा था। इसके बाद भी उन्हें सफदरजंग अस्पताल लाना पड़ा था।
दिल्ली महिला आयोग की टीम ने हरियाणा पुलिस को इस बात की जानकारी दे दी है। हरियाणा पुलिस ने अपनी एक टीम अस्पताल भेजी है, ताकि आगे की कार्रवाई हो सके। हालांकि, दिल्ली महिला आयोग ने फरीदाबाद पुलिस से मामले में जल्द एफआईआर दर्ज करवाने के लिए कहा है।
दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने कहा, 'एक के बाद एक तीसरे दिन हम एक लड़की को एसिड का शिकार बनते देख रहे हैं। इस महिला के मुंह पर उसके पति ने तेजाब फेंका, जिससे उसका चेहरा 35 फीसदी तक झुलस गया है। मैं उससे अस्पताल में मिली और उसकी हालत देखकर दिल सहम गया, इस देश में किसी को कानून का डर नहीं है। कब इन लोगों के दिल में कानून का खौफ बैठेगा? हरियाणा पुलिस जल्द FIR दर्ज करे।'
घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस एफआईआर नहीं दर्ज कर सकी है। पुलिस का कहना है कि महिला बयान देने में असमर्थ है।परिजनों को सूचना दी गई है। महिला के भाई के आते ही एफआईआर दर्ज की जाएगी। यह पल्ला थाना क्षेत्र का मामला है। पुलिस ने महिला के पति को ग‍िरफ्तार कर लिया है।