आगरा में रिटायर्ड आईएएस की बेटी हुई ‘लव जिहाद’ का शिकार? आरिफ ने आदित्य बनकर लूटी अस्मत


आगरा। यूपी के आगरा में एक हाई प्रोफाइल लव जिहाद का मामला सामने आया है। महिला ने आरोप लगाया है कि आरिफ हाशमी नाम के व्यक्ति ने अपना धर्म छिपाकर पहले उससे दोस्ती की, फिर धोखे से मांग में सिंदूर भरने की फोटो खींचकर ब्लैक मेल करने लगा। यही नहीं आरोपी ने रेप किया और धर्म परिवर्तन का भी दबाव बनाया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बता दें कि पीड़िता पूर्व आईएएस की बेटी है और उसके ससुर आगरा के पूर्व मेयर रहे हैं। पिता की मौत हो चुकी है, जबकि ससुर अभी जिंदा हैं। आदित्य बनकर उसने पहले महिला से दोस्ती बढ़ाई। फिर एक दिन शादी भी कर ली। कुछ साल बीते। तभी एक दिन पता चला कि आदित्य तो असल में आरिफ था। जी हां, मोहब्बत की नगरी आगरा में लव जिहाद का कथित मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है।
लखनऊ में एक रिटायर्ड आईएएस अधिकारी की बेटी अब लव जिहाद का ‘शिकार’ बन गई है। आगरा पुलिस ने सोमवार को बताया कि लखनऊ के एक लकड़ी व्यवसायी आरिफ हाशमी ने एक समारोह में खुद को आदित्य बताकर पीड़ित महिला के साथ मुलाकात की थी। पुलिस के मुताबिक, उसने जल्द ही महिला से दोस्ती कर ली और जब उनका रिश्ता आगे बढ़ा तो दोनों ने 2010 में शादी कर ली। महिला विधवा थी और उसे ‘आदित्य’ के इरादों पर शक नहीं था।
पुलिस ने कहा कि शादी के कुछ साल बाद महिला को पुरुष की असली पहचान के बारे में पता चला और फिर उसने उसे इस्लाम में बदलने के लिए उसे मजबूर करना शुरू कर दिया। उसने इनकार किया तो वह प्रताड़ित और ब्लैकमेल करने लगा। वह महिला के पहले पति के होटल का इस्तेमाल उसके साथ मारपीट करने के लिए करता था। इसके बाद महिला ने आरोपी के खिलाफ मारपीट, हत्या का प्रयास, दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य, लूटपाट, धोखाधड़ी और अवैध धर्मांतरण जैसी गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया। आगरा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शहर बोत्रे रोहन प्रमोद ने कहा, 'हमने आईपीसी की संबंधित धाराओं और धर्मांतरण विरोधी कानून के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपी को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया और आगे की जांच जारी है।' पुलिस को उसकी तस्वीरें भी मिली हैं जिसमें वह समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के कई बड़े नेताओं के साथ नजर आ रहा है।