तबेले में छिपाकर रखी थी शराब की बातलें, भैसों ने पानी समझकर गटक ली


गांधीनगर। गुजरात के गांधीनगर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। टीओआई में छपी एक खबर के मुताबिक भैसों ने कुंड से पानी पीने के चक्कर में शराब की सारी बोतलें गटक ली जिसके बाद पुलिस ने मालिक को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि पुलिस ने तबेले से शराब की बोतलें बरामद की हैं जिनको एक कुंड में छिपा कर रखा था। यह मामला गांधीनगर के चिलोड़ा इलाके का है। पुलिस ने कुंड के अंदर छिपी 101 बोतल शराब जब्त की है और भाइयों दिनेश ठाकोर, अंबरम ठाकोर और रवि ठाकोर के खिलाफ शराबबंदी उल्लंघन की शिकायत दर्ज कर दी है। 
एलसीबी के सहायक उप-निरीक्षक दिलीपसिंह बलदेव ने रविवार को चिलोदा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी और कहा कि, अस्तबल से 35,000 रुपये मूल्य की आईएमएफएल की 101 बोतलें जब्त की गईं है। बता दें कि मालिक के भैंस और एक बछड़ा बीमार पड़ गया था और इन जानवरों ने खाना बंद कर दिया था और उनके मुँह से झाग निकल रहा था। उनका व्यवहार सामान्य नहीं था।
अगले दिन, भैंसें अनियंत्रित होकर कूदने लगीं, जबकि उनके मुंह से झाग आना जारी रहा। ठाकोर बंधुओं ने एक अन्य पशु चिकित्सक से परामर्श किया। “डॉक्टर ने एक साइट का दौरा किया और कुंड में पानी से निकलने वाली एक अजीब गंध के बारे में पूछा। उन्होंने कंटेनर में पानी के पीले रंग के बारे में भी पूछताछ की। ठाकोर बंधुओं ने एलसीबी टीम को सूचना दी, जिसके बाद कुंड में शराब की टूटी बोतलों के साथ-साथ व्हिस्की, वोदका और अन्य शराब की 101 बोतलों पर छापा मारा गया। बता दें कि यह जानवर शराब पीने के कारण बीमार पड़ रहे थे।इस बीच, चिलोदा पुलिस स्टेशन के पीएसआई एन जी परमार ने मामले की जांच शुरू कर दी है।