गाजियाबाद में कुर्बानी के लिए उधार में खरीदा बकरा, रुपये न देने पड़ें इसलिए युवक ने रची किडनैपिंग की कहानी


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद के मुरादनगर इलाके का एक वीडियो वायरल हुआ। इस वीडियो में एक युवक रस्सी से बंधा हुआ झाड़ियों में पड़ा हुआ दिखाई दे रहा है। यह वीडियो मुरादनगर पुलिस को मिला तो पुलिस मौके पर पहुंची। लेकिन वहां पर युवक नहीं मिला। लेकिन जो पुलिस ने तफ्तीश की तो मामला हैरान करने वाला निकला। जांच में पता चला कि जिस युवक का वीडियो वायरल हो रहा है। उस युवक ने मुरादनगर में ही रहने वाले एक हाजी से ईद की कुर्बानी के लिए बकरा खरीदा था। उसने दो दिनों में उधार चुकाने की बात कही थी।
2 दिन बाद जब उसके पास हाजी को देने के लिए नहीं थे। तो युवक ने खुद के ही अपहरण का नाटक रचते हुए अपने साथी से हाथ पैर बंधवाकर झाड़ी में छुप गया और वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।
ईद पर कुर्बानी के लिए उधार खरीदा था बकरा
मुरादनगर इलाके के नूरगंज मोहल्ले में रहने वाले वसीम नाम के युवक ने खुद ही बताया कि उसने 2 दिन के उधार पर ₹15000 में इलाके में रहने वाले एक हाजी से ईद की कुर्बानी के लिए एक बकरा खरीदा था। लेकिन 2 दिन बाद हाजी ने बकरे के पैसे मांगे तो उसके पास पैसे नहीं थे। इसलिए उसने पैसे ना देने की नियत से खुद ही अपहरण का नाटक रचकर अपने साथी से रस्सी से बंधवाकर झाड़ी में छुप गया था और यह वीडियो भी खुद ने ही बनाकर वायरल कर दिया। हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद उसके परिजन खुद उसे घर ले आए।
अफवाह फैला कर पुलिस को किया गया गुमराह
एसपी देहात डॉ ईराज राजा ने बताया कि मुरादनगर पुलिस को सोशल मीडिया के माध्यम से एक वीडियो प्राप्त हुआ था।जिसमें रस्सी से बंधा एक युवक झाड़ियों में पड़ा दिखाई दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा तो वहां पर युवक नहीं मिला।
एसपी ने बताया कि हालांकि किसी भी तरफ से अभी कोई तहरीर प्राप्त नहीं हुई है। लेकिन जिस तरह से अफवाह फैला कर पुलिस को भी गुमराह किया गया है।आरोपी युवक के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।