थाना लिंकरोड पुलिस द्वारा लूट की घटना का किया गया खुलासालूटे गये माल के साथ 02 शातिर लूटेरे गिरफ्तार



मोहनलाल गौड़,(गाजियाबाद ब्यूरो)। जिले के लिंक रोड थाना क्षेत्र स्थित सूर्य नगर में 14 जुलाई को कारोबारी आशुतोष गर्ग के यहां दिनदहाड़े हुई लाखों की लूट की पटकथा उनके पूर्व अकाउंटेंट ने लिखी थी। पुलिस ने बुधवार सुबह उसे एक लुटेरे सहित गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से लूट के सामान बरामद हुए हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी इंदिरापुरम अभय कुमार मिश्र ने बताया कि 14 जुलाई को सूखे मेवे के कारोबारी आशुतोष गर्ग को कारोबारी सहित बंधक बनाकर लूट हुई थी। लुटेरे कोरियर ब्वाय बनकर उनके घर में घुसे थे। मामले के राजफाश के लिए पुलिस और सर्विलांस की टीम लगी थी। घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों से महत्वपूर्ण फुटेज मिली थी। उसकी जांच की गई। पता चला कि कारोबारी के पूर्व अकाउंटेंट संतोष झा निवासी शकरपुरा दिल्ली ने नेपाल में रहने वाले पांच लुटेरों से लूट कराई थी। वह भी मूल रूप से नेपाल का ही रहने वाला है। अभय कुमार मिश्र ने बताया कि उसकी लगातार तलाश की जा रही थी। बुधवार सुबह करीब नौ बजे उसे सूर्य नगर टी प्वाइंट के पास से रमेश क्षेत्री घर्ती उर्फ जितेंद्र निवासी नेपाल के साथ गिरफ्तार किया गया। उसके पास से आशुतोष के यहां से लूटे गए गहने और 24 सौ रुपये बरामद हुए।
अभय कुमार मिश्र ने बताया संतोष झा और रमेश सहित घटना में छह लुटेरे शामिल थे। पूछताछ में पता चला है कि संतोष झा पूर्व में कारोबारी के यहां आता-जाता था। उसे उनके घर के बारे में पूरी जानकारी थी। साल भर पहले उसने काम छोड़ा था। उसने नेपाल निवासी साथियों के साथ मिलकर कारोबारी के यहां लूट की योजना तैयार की और उसे अंजाम दिया। उन्होंने बताया कि अन्य आरोपितों की तलाश की जा रही है।