अमरोहा में महिला का सनसनीखेज आरोप, ससुराल के 12 लोगों पर कराया गैंगरेप का मुकदमा


अमरोहा। जिले में 27 साल की एक महिला ने रजबपुर पुलिस स्टेशन में अपने ससुराल के 12 लोगों पर गैंगरेप, अप्राकृतिक अपराध और क्रूरता का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई है। महिला की तहरीर पर आईपीसी और दहेज की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। कथित तौर पर बलात्कार की शिकार महिला ने आरोप लगाया है कि उसके पति के परिवार के एक सदस्य और उसके दोस्त ने कहा कि अगर उसके पति को उसे दहेज मे एक एसयूवी और पांच लाख रुपये नहीं मिलेगा तो यह जारी रहेगा। शिकायत में कहा गया है, मेरी तीन साल पहले शादी हुई थी। मेरे माता-पिता ने दहेज के रूप में बहुत कुछ दिया था।
दहेज के पैसे ना देने पर रेप का आरोप
कुछ महीनों के बाद, मेरे पति और उनके परिवार ने 5 लाख रुपये नकद और एक लग्जरी कार की मांग की। जब मैंने अपने पिता पर दहेज के लिए दबाव डालने से इनकार कर दिया, तो उन्होंने मुझे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। उसने अपनी शिकायत में आगे लिखा कि जब मैं गर्भवती हुई तो उन्होंने मुझे गर्भपात के लिए मजबूर किया। उन्होंने मुझे मारना शुरू कर दिया। मेरे पति ने मुझे अप्राकृतिक अपराधों के लिए मजबूर किया। जब मैं अपने माता-पिता के घर चली गई, तो उन्होंने मुझे वापस आने के लिए मना लिया और मैं सहमत हो गई।
शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज
उसने आरोप लगाया कि पिछले हफ्ते, उसके साले और उसके दोस्त ने उसके साथ बलात्कार किया और जब उसने अपने पति को घटना की जानकारी दी, तो उसने कहा कि अगर उसे एसयूवी और पांच लाख रुपये नहीं मिले तो यह जारी रहेगा। इसके बाद वह अपने माता-पिता के घर चली गई। अमरोहा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने कहा, हमने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया है और आरोपियों की गिरफ्तारी होनी बाकी है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर