गजब! रांची में 300 साल पुराने दुर्लभ कल्पतरु के पेड़ पर बांधी गई 30 फीट लंबी राखी


रांची,(झारखंड)। रक्षाबंधन के मौके पर जहां देशभर में बहन अपने भाईयों की कलाई पर राखी बांध रही है, वहीं राजधानी रांची की कुछ छात्राओं ने डोरंडा में स्थित 300 साल पुराने दुलर्भ कल्पतरु के पेड़ पर राखी बांध कर एक मिसाल कायम की और पर्यावरण सुरक्षा का संदेश दिया।
रांची के एक निजी शिक्षण संस्थान में पढ़ने वाली छात्राओं ने इको फ्रेंडली थीम पर रक्षाबंधन का त्योहार मनाते हुए 30 फीट लंबी और 3 फीट चौड़ी राखी बांध कर पर्यावरण सुरक्षा का संदेश देने का काम किया। इस मौके पर छात्राओं ने कहा कि पर्यावरण के लिए पेड़-पौधे काफी महत्व रखते हैं और कल्पतरु वृक्ष की संख्या भी अब देश भर में काफी कम हो गई है, इसे बचाने की जरुरत के संदेश के साथ रक्षाबंधन के दिन इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
छात्राओं ने बताया कि कोरोना संक्रमण के दौरान ऑक्सिजन की महत्ता का लोगों को एहसास हुआ। साथ ही यह भी पता चला कि पेड़ पौधे का कितना महत्व है। ऐसे में रक्षाबंधन के दिन कल्पतरु वृक्ष पर राखी बांधकर पूरे प्रदेश को एक मैसेज दिया है कि पेड़ों की रक्षा करना भी जरूरी है।